बीमार नेपाली बच्ची की जान बचाने भारतीय सेना ने खोल दी सरहद !

बीमार नेपाली बच्ची की जान बचाने भारतीय सेना ने खोल दी सरहद !
Share on social media
नेपाली बच्ची की जान बचाने को भारत ने खोला अंतरराष्ट्रीय पुल
– फफकते हुए माता-पिता ने कहा कहा- यूं ही नहीं कहा जाता इंडिया को महान
mp03.in संवाददाता भोपाल 
नेपाल सरकार के विवादित बयानों के बावजूद भारत ने माहभर की एक बीमार नेपाली बच्ची की जान बचाने के लिए तमाम नियम-कानून और विवादों को दरकिनार कर सोमवार को सरहद खोल दी। बीमार बच्ची को बचाने करीब 20 मिनट तक खोले गए अंतरराष्ट्रीय झूला पुल से दंपत्ति भारत आकर अपनी बीमार बेटी का इलाज कर रहा रहे हैं। इस दौरान भीगी आंखों से दंपति ने भारतीय अफसरों को आभार जताते हुए कहा, यूं ही भारत को महान नहीं कहा जाता। प्राथमिक उपचार के बाद बीमार मासूम को धारचूला के बलुवाकोट में रखा गया है। मंगलवार को उसे और बेहतर इलाज के लिए पिथौरागढ़ जिला अस्पताल लाया जाएगा।
जानकारी केअनुसार  भारत से लगे नेपाल के मल्लिकार्जुन गांव की बच्ची का लंबे समय से दार्चुला के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। बच्ची की आंतों में गांठें बनने के कारण उसकी हालत गंभीर हो गई है। इसे देखते हुए नेपाल के चिकित्सकों ने परिजनों को उसे भारत ले जाने की सलाह दी। लेकिन झूलापुल बंद होने के कारण परिजन ठिठक गए। बाद में नेपाल के समाजसेवियों के जरिये परिजनों ने पिथौरागढ़ जिला प्रशासन से मदद की गुहार लगाई तो भारतीय अफसरों ने मासूम की जिंदगी की खातिर तत्काल झूला पुल खोलने के आदेश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *