100 क्विटंल गेहूं का बीच लेकर ट्रक ड्राइवर फरार

100 क्विटंल गेहूं का बीच लेकर ट्रक ड्राइवर फरार
Share on social media
– राजनांदगांव की सहकारी समिति ने भोपाल-सीहोर से मंगाया था बीज
mp03.in संवाददाता भोपाल।
छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव की एक सहकारी समिति द्वारा भोपाल और सीहोर जिले से सौ क्विंटल उन्नत बीज मगाया था, जिसे ट्रक चालक लेकर लापता हो गया है। सहकारी समिति की अध्यक्ष की तरफ से उनके बेटे ने मिसरोद में अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज कराया है। गेहूं का उन्नत बीज एक प्राइवेट एग्रोटेक कंपनी के भोपाल और सीहोर स्थित गोदाम से भेजा गया था। कटारा हिल्स थाना प्रभारी पूर्णेंद्र सिंह ने बताया कि खुलेश वर्मा पिता द्वारिका प्रसाद वर्मा (36) छत्तीसगढ़ जिले के राजनांदगांव के ग्राम कटेल थाना खैरा का रहने वाले हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि उनकी मां नर्मदा बीज उत्पादक विपणन एवं सहकारी समिति की अध्यक्ष हैं। उन्होंने झलादल एग्रोटेक कंपनी से गेहूं के 100 क्विंटल उन्नत बीज मंगाया था। उक्त बीज को राजनांदगांव में समिति के माध्यम से किसानों को बोने के लिए सप्लाई करना था।
फोन पर आर्डर, ऑनलाइन पेमेंट
जानकारी के अनुसार बताया कि झलादल नाम की निजी एग्रोटेक कंपनी है, जिसका कटाराहिल्स थाने के ग्राम बगरोदा और सीहोर जिले के दोराहा के पास वेयरहाउस है। सहकारी समिति ने फोन के जरिए निजी एग्रोटेक कंपनी को 100 क्विंटज गेहूं के बीज भेजने का आर्डर दिया था। बतौर एडवांस कुछ रकम समिति ने एग्रोटेक कंपनी के खाते में ऑनलाइन भेजी थी। चार नवंबर को ट्रक (एमपी-13-जी-1083) 80 क्विंटल गेहूं के बीज सीहोर जिले के वेयरहाउस और 20 क्विंटल बीज बगरोदा स्थित वेयरहाउस से लेकर राजनांदगांव के लिए रवाना हुआ था। लेकिन 10 नवंबर तक वह पहुंचा नहीं। ट्रक चालक का नंबर भी दो दिन से नहीं लग रहा। इसके बाद समिति अध्यक्ष के बेटे खुलेश वर्मा ने फोन पर भोपाल पुलिस से संपर्क किया और ई-मेल के जरिए आवेदन भेजकर मामला दर्ज कराया है। थाना प्रभारी ने कहा कि फोन ही फरियादी से बात हुई है। वे गेहूं खरीदी के कुछ दस्तावेज भेज रहे हैं। पुलिस ट्रक नंबर और चालक के फोन नंबर के आधार पर जांच कर रही है। पुलिस को फरियादी ने एक ही नंबर दिया है, जिस पर गेहूं का सौदा हुआ था।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *