एक दर्जन युवतियों के जरिए हनीट्रेप में कई लोगों को फंसा चुका है गिरोह

एक दर्जन युवतियों के जरिए हनीट्रेप में कई लोगों को फंसा चुका है गिरोह
Share on social media
– दो नामजद आरोपियों की तलाश शुरू, बदनामी के डर से सामने नहीं आ रहे फरियादी
mp03.in  संवाददाता भोपाल
पिपलानी थाना क्षेत्र में हनीट्रेप जैसे ब्लैकमेल के मामले पुलिस दो आरोपियों को गिरफ्तार कर दो नामजद आरोपियों की तलाश कर रही है। बताया जाता है कि उक्त दोनों आरोपियों को भी पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इस मामले में पूछताछ के बाद खुलासा हुआ कि मुख्य सरगना अपराधिक प्रवृत्ति का है। वर्ष 2019 में भी वह इसी तरह युवती के जरिए युवकों को ब्लैकमेल के एक मामले में गिरफ्तार हो चुका है। उसके खिलाफ पिपलानी में लूट और अयोध्या नगर में भी अड़ीबाजी का मामला दर्ज है। जांच में सामने आया कि गिरोह के सरगना  के संपर्क में एक दर्जन युवतियों हैं, जिन युवतियों की दोस्ती वह युवकों से कराता है फिर आपत्तिजनक फोटोग्राफ्स, वीडियो बनाकर दुष्कर्म के झूठे मामलों में फंसाने के नाम पर ठगी करता था। आरोपी दो साल से इस कार्य में लिप्त है। आरोपी ने भी पुलिस को बताया कि उसने युवतियों के जरिए कई लोगों को इस तरह से ब्लैक कर लाखों रुपए ऐंठे हैं। लेकिन ठगी व ब्लैकमेलिंग का शिकार हुए लोग बदनामी के डर से सामने नहीं आ रहे हैं।
पुलिसकर्मी बनकर करते थे अड़ीबाजी
दाउद पुत्र आफाक खान (28) ने पुलिस अधिकारियों से शिकायत की थी कि उसका दोस्त अंटू ने आरती शर्मा उर्फ असरा खान नाम की युवती से दोस्ती कराई थी। 12 अक्टूबर को अंटू ने असरा खान के साथ मुझे कटाराहिल्स स्थित एक फ्लैट में ले गया और वहां से चला गया। इसके बाद असरा खान ने उसे ब्लैकमेल करने लगी। इसी बीच योगेंद्र विश्वकर्मा और आलोक शर्मा नाम के दो युवक आए। दोनों ने खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए कमरे में घुसे और गलत काम करने का आरोप लगाते हुए ब्लैकमेल करने लगे। युवती भी पैसे नहीं देने पर दुष्कर्म के मामले में फंसाने की धमकी देने लगे। इसके बाद फरियादी से 11 हजार रुपए व दो तोला वजनी सोने की चेन छीन ली थी। पुलिस ने इस मामले में लूट का मामला दर्ज किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *