उज्जैन के तीन इलाकों में जहरीली शराब से 11 लोगों की मौत के बाद एसपी और सीएसपी नपे !

उज्जैन के तीन इलाकों में जहरीली शराब से 11 लोगों की मौत के बाद एसपी और सीएसपी नपे !
Share on social media
नवागत एसपी उज्जैन सत्येंद्र कुमार शुक्ला

mp03.in संवाददाता उज्जैन 

उज्जैन के तीन इलाकों खाराकुंआ, जीवाजीगंज और महाकाल थाना क्षेत्रों में  बीते चौबीस घंटों में जहरीली  जिंजर शराब से 11 लोगाें की मौत के मामले में  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सख़्त रूख अख्तार करते हुए एसपी उज्जैन मनोज सिंह को हटा दिया है। सीएसपी रजनीश कश्यप को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने के निर्देश दे दिए हैं। मनोज सिंह को हटाए जाने के बाद रिक्त उज्जैन एसपी के पद पर एसपी शहडोल सत्येंद्र कुमार शुक्ला को पदस्थ किया गया। जबकि इंदौर एटीपीसी में पदस्थ 2009 बैच के आईपीएस अफसर अवधेश गोस्वामी को एसपी शहडोल बनाने के आदेश गृह विभाग ने जारी कर दिए। वहीं, एसपी उज्जैन मनोज सिंह को पुलिस मुख्यालय अटैच कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने पीएस ओम से जांच के ब्यौरे की रिपोर्ट तत्काल प्रभा से मांगी है। साथी ही सख्त निर्देश दिए हैं कि मामले से जुडे़ किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाए। इस मामले में जांच एसआईटी से कराए जाने के निर्देश भी दिए हैं।

कई अधिकारी पहले ही निलंबित

थाना प्रभारी खाराकुआ निरीक्षक एम.एल. मीणा, बीट प्रभारी उप निरीक्षक निरंजन शर्मा और दो आरक्षकों शेख अनवर एवं नवाज शरीफ को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

विपक्ष ने साधा निशाना
मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा नीत प्रदेश सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि शिवराज जी, ये माफिया कब तक यूं ही निर्दोषों की जान लेते रहेंगे? प्रदेश के कई जिलों से शराब माफ़िया व अवैध शराब के कारोबार की निरंतर शिकायतें मिल रही हैं. हमारी सरकार जाते ही ये माफिया वापस बेखौफ होकर सक्रिय हो गए हैं. हमारी सरकार ने इन्हें कुचला था और भाजपा सरकार इन्हें संरक्षित कर रही है.

  • ये 11 लोग इतनी बुरी स्थिति में अस्पताल लाए गये थे कि इनमें से कोई भी 15 मिनट से ज्यादा जीवित नहीं रह पाया. उन्होंने कहा कि ये कोई जहरीली शराब, स्प्रिट या कोई भी अन्य केमिकल भी हो सकता है, जो विसरा जांच में पता चलेगा। – महावीर खंडेलवाल, सीएमएचओ

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *