जबलपुर में कुख्यात बदमाश की कमाई से बना अवैध रेस्टोरेंट किया जमींदौज

जबलपुर में कुख्यात बदमाश की कमाई से बना अवैध रेस्टोरेंट किया जमींदौज
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल/जबलपुर 

डीजीपी विवेक जौहरी के निर्देशों पर प्रदेशभर में  माफियाओं अैर गुण्‍डों पर प्रभावी कार्यवाही जारी है। शुक्रवार को जबलपुर पुलिस प्रशासन ने निगम के साथ मिलकर  नौदरा ब्रिज एवं करमचंद चैक स्थित यश जैन एवं हर्ष जैन के अवैध रूप से निर्मित दरबार बेज रेस्टोरेंट को तोड़ डाला। यह अवैध रूप से निर्मित वेज रेस्टोरेंट लगभग 3 करोड रूपये की लागत से बनाया गया था।

कुख्यात बदमाश की रेस्टोरेंट में संलिप्तता 

उक्त रेस्टोरेंट नया मोहल्ला निवासी कुख्अयात बदमाश्ब्द अब्दुल रज्जाक की संलिप्तता से चलाया जा रहा था जिसके विरूद्ध पूर्व में एन.एस.ए. की कार्यवाही की जा चुकी है। ऐसी जानकारी प्राप्त हुई थी कि आरोपी अब्दुल रज्जाक द्वारा तीन करोड की राशी रेस्टारेन्ट के निर्माण में लगाया गया था जिस बिन्दु पर जांच जारी है। अब्दुज रज्जाक जिला नरसिंहपुर के ग्राम राकई थान करेली का निवासी है जो अपनी पैत्रिक सम्पत्ति बेच कर डेयरी का धंन्धा करने के उदेश्य से  अपने परिवार सहित नया मोहल्ला ओमती जबलपुर में बस गया है।

आठवीं तक पढ़ा

अब्दुल रज्जाक कक्षा आठवीं तक पढ़ा है। अब्दुल रज्जाक बचपन से ही कसरत करता था एवं पहलवानी का शैक रखता था। इस कारण रज्जाक पहलवान के नाम से चर्चित  रहा है। बदमाश का 40 एकड़ जमीन गौर में खरीदी गयी है। 1990 में टोलटेक्स बैरियरों का ठेका अपने साथी प्रकाश खम्परिया आदि के साथ मिलकर लिया था। जहाँ से उसका विवाद शहर के अन्य अपराधियों से शुरू हुआ था। धीरे-धीरे गैंग बनाकर अपराधिक गतिविधियाँ संचालित करने लगा था।

40 सदस्यीय गैंग संचालित करता है रज्जाक 

रज्जाक की गैंग में 40 करीब सक्रिय सदस्य हैं। प्रकरण का अनावेदक अब्दुल रज्जाक पिता अब्दुल वहीद के द्वारा संगठित गैंग एवं स्वयं के द्वारा कुल 86 अपराधिक घटनायें, बल्वा मारपीट, प्रयास हत्या, हत्या, लूटपाट, बमबाजी आदि की कारित की जाकर जनमानस में अपना एवं अपने गैंग का भय व्याप्त किया गया है। अनावेदक तथा उसके गैंग के सदस्यों के द्वारा जबलपुर जिला या जिले के समीपवर्ती जिलों में विवादित जमीन या ऐसी जमीन जिससे धनोपर्जन की संम्भावना को अपने आपराधिक बल एवं भय के माध्यम से कम कीमत में खरीद लिया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *