कुख्यात बदमाश हाफिज उर्फ सोल्जर के ठिकाने पुलिस ने किए जमींदोज

कुख्यात बदमाश हाफिज उर्फ सोल्जर के ठिकाने पुलिस ने किए जमींदोज
Share on social media
  -पुलिस की गुंडा लिस्ट में शामिल हाफ़िज़ पर प्रशासन एवं पुलिस की संयुक्त कार्यवाही
mp03.in संवाददाता भोपाल
 हिस्ट्रीशीटर एवं गुंडा लिस्ट में शामिल अपराधियों के हौसले पस्त करने राजगढ़ पुलिस और प्रशासन द्वारा बदमाशों की संपत्ति कुर्की व जमींदौज किए जाने की कारवाई जारी है। राजगढ़ पुलिस और प्रशासन ने कुख्यात बदमाश हाफिज उर्फ सोल्जर की संपत्ति को शुक्रवार को जमींदौज कर दिया।
एसपी प्रदीप शर्मा के अनुसार एडीजी उपेंद्र जैन और डीआईजी देहात संजय तिवारी के मार्गदर्शन में आपराधिक क्रियाकलापों में लिप्त अपराधियों पर अंकुश लगाने विशेष अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत आपराधिक गतिविधियों में लिप्त अपराधियों के हौसले पस्त करने  जिला दंडाधिकारी  नीरज सिंह एवं  पुलिस अफसरों के नेतृत्व में प्रशासनिक अमला और  पुलिस विभाग की टीम ने साथ मिलकर जिले के गुंडों की लिस्ट में शामिल हाफिज उर्फ सोल्जर पिता यूसुफ उस्ताद उम्र 38 साल निवासी हाट मोहल्ला सारंगपुर की संपत्ति को शुक्रवार को जमींदौज कर दिया।
दहशत समाप्त करने कार्रवाई की
 हाफिज उर्फ सोल्जर पिता युसूफ उस्ताद काफी पुराने समय से आपराधिक गतिविधियों में लिप्त रहा है, जिला पुलिस की टीम एवं प्रशासनिक अमले ने साथ मिलकर अवैध रूप से बनाई गई अवैध संपत्ति जैसे घर दुकान आदि को ध्वस्त कर के क्षेत्र में उसके प्रति व्याप्त डर को खत्म किया है।
18 से ज्यादा गंभीर अपराध 
          हाफिज उर्फ सोल्जर पिता युसूफ उस्ताद के अपराधिक रिकॉर्ड की फेहरिस्त काफी लंबी है वर्ष 2003 से लेकर अब तक हत्या समेत करीब 18 से ज्यादा आपराधिक गतिविधियों में लिप्त रहा है । निश्चित रूप से प्रशासन एवं पुलिस द्वारा मिलकर की गई इस कार्रवाई को सराहनीय कहा जाए तो अतिशयोक्ति न होगी क्योंकि इस तरह के गुंडों और उनके भय को समाज से ख़तम करना अति आवश्यक है वही लोगों तक यह संदेश पहुंचाना कि चाहे कोई कितने भी अपराध कर ले परंतु प्रशासन से बड़ा कोई नहीं होता एक ना एक दिन भय का अंत अवश्य होता है।
यह शामिल थे कार्रवाई में 
SDM सारंगपुर, एसडीओपी सारंगपुर , तहसीलदार सारंगपुर सहित थाना प्रभारी सारंगपुर एवं पुलिस टीम ने मिलकर इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया इस दौरान जेसीबी की मदद से अवैध निर्माण को ध्वस्त किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *