आटो चालक पिता की कालर पकड़ने पर बेटे ने दिया था दोस्त के साथ मिलकर अंधे कत्ल को अंजाम

आटो चालक पिता की कालर पकड़ने पर बेटे ने दिया था दोस्त के साथ मिलकर अंधे कत्ल को अंजाम
Share on social media
– 72 घण्टे मे पुलिस थाना कनाड़िया ने किया अंधे कत्ल का पर्दाफाश।
– चलती मो.सा. से दिन दहाडे चाकू मारकर हत्या करने वाले आरोपियों में से एक पकड़ाया, दूसरे की तलाश
– आटो चालक व मृतक के विवाद के बाद, आटो चालक के बेटे ने दोस्त के साथ मिलकर दिया घटना को अंजाम
mp03.in संवाददाता इंदाैर 
कनाड़िया इलाके में हुए अंधे कत्ल का इंदौर पुलिस ने 72 घंटों में ही पर्दाफाश कर लिया है। आरोपी ने  आटो चालक पिता के साथ मृतक के हुए विवाद का बदलाना लेने वारदात काे अंजाम दिया था।
इंदौर पुलिस के अनुसार  थाना कनाडिया क्षेत्र अंतर्गत बिचोली मर्दाना ग्राम में 3 अक्टूबर को  दिन दहाडे़ चेतन सिंह सोलंकी की नृशंस हत्या अज्ञात आरोपियों ने कर दी थी। आईजी इंदौर योगेश देशमुख व डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्र ने तत्काल मामले को सुलझाने के सख्त निर्देश दिए थे। एएसपी पूर्व जोन -2 राजेश रधुवंशी व सीएसपी खजराना अनिल सिंह राठौर के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी कनाडिया आऱ. डी. कानवा द्रारा टीम गठित कर हत्या के खुलासे के लिये लगातार अनुसंधान किया जा रहा था।  टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुये घटना स्थल के आसपास के सी.सी.टी.व्ही फुटैज खंगालने हेतु विभिन्न टीमो को लगाया गया जिसमे करीब 25 स्थानो के सी.सी.टी.व्ही फुटैज प्राप्त किये जिनके आधार पर मृतक चेतन की हत्या करने वाले संदिग्ध दो व्यक्तियो को मो.सा. से घटना स्थल से नंदी परिसर होते हुए कालीन्दी टाऊनशीप होते हुए बडिया कीमा की ओर जाते दिखाई दिये । जिस पर मुखबिर तंत्र को संक्रिय कर संदिग्ध व्यक्तियो की जानकारी हेतू लगाया गया ।  मुखबिर के माध्यम से सूचना मिली की फुटैज मे दिख रहे संदिग्ध व्यक्तियो मे से एक व्यक्ति शुभम मालवीय आटो चालक जगदीश मालवीय का पुत्र है जो साई विहार कालोनी बडिया कीमा मे रहता है जो शनिवार से ही फरार है  जिसकी तलाश करते सूचना प्राप्त हुई कि संदेही शुभम मालवीय देवास नाके पर रतन उस्ताद ट्रक चालक  बापू गांधी नगर शिव घऱ पर है । जिसे तत्काल गिरफ्तार कर लिया गया। जिसने अपने दोस्त पंकज के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देना कबूला। पुलिस द्वारा घटना मे आरोपी शुभम मालवीय द्वारा पहने गये कपडे, ब्लू जिंस पेन्ट, पिंक सर्ट, तथा नारंगी जूते तथा घटना मे प्रयुक्त चाकू जप्त कर लिए गए हैं। पुलिस को अब फरार आरोपी पंकज चंदानी की तलाश है।
यह विवाद थी हत्या की वजह 
बिचौली मर्दाना निवासी चेतन सोलंकी पिता बनेसिंह सोलंकी (20) गत तीन अक्टूबर को अपने साथी बंटी उर्फ देवेन्द्र सोलंकी के साथ भैरव नाथ ढाबा बडिया कीमा रोड से खाना खाकर आ रहे थे, कि विद्यासागर स्कूल के आगे सतगुरु द्वार के सामने  एक आटो चालक से विवाद होना व मृतक चेतन द्वारा आटो चालक से उसके बेटे के सामने झूमा झटकी भी की गई थी। पिता का अपमान देखकर बेटा शुभम मालवीय अपने पिता के साथ घर पहुंचा। जिसके बाद  पिता को घर छोडकर चाकू लेकर अपने दोस्त पंकज को घटना बताई। जिसके बाद उसे साथ लेकर बदला लेने के लिये बंटी के घऱ के आसपास बिचौली मर्दाना मे गए।  जहा बंटी तथा उसका साथी बैंक आफ महाराष्ट बिचौली मर्दाना के पास बैठे दिखे। आरोपियों ने बैंक के पास रुककर मौके का इंतजार किया। जैसे ही बंटी का साथी (मृतक चेतन)  एक्टिवा गाडी से शमशान रोड की ओर निकला वैसे ही शुभम ने अपने साथी पंकज के साथ मोटर साइकिल से उसका पीछा किया। पंकज ने चलती बाइक से एक्टिवा में सवार पीछे वाले व्यक्ति चेतन सोलंकी को चाकू मार दिया। जिसके बाद आरोपी  फरार होकर नंदी परिसर के सामने से होते हुए नोबल हास्पिटल होते हुए घर पहुचे। जहां से कपड़े बदलकर  जुते तथा खुन लगा चाकू और कपडे़ घर मे एक थैली मे भरकर घर पर रखी लोहे की अनाज की कोठी मे छुपा दिया । वारदात के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए।
इनकी सराहनीय भूमिका 
  उक्त अंधे कत्ल का पर्दाफाश करने में टीआई कनाडिया आर.डी.कानवा व उनकी टीम उप निरीक्षक रितेश यादव उनि बलवीर रघुवंशी, सउनि नितिन भालेराव , आर  मुजफ्फर शेख, आर. नीरज गुर्जर ,आर प्रदीप की सराहनीय भूमिका रही ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *