हत्या के प्रयास में ग्वालियर जेल में बंद आरोपी से पूर्व मुख्यमंत्री की मुलाकात कराने पर जेल अधीक्षक सस्पेंड!

हत्या के प्रयास में ग्वालियर जेल में बंद आरोपी से  पूर्व मुख्यमंत्री की मुलाकात कराने पर जेल अधीक्षक सस्पेंड!
Share on social media
mp03.in संवाददाता भोपाल/ग्वालियर  
जेल मैन्युअल काे ताक पर रखकर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह समेत दस नेताओं को एसआई की हत्या के प्रयास में जेल में बंद आरोपी नेता से मिलवाना जेल अधीक्षक मनोज साहू को महंगा पड़ा। नेताओं के साथ जेल मुलाकात की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद गृहमंत्री नेरोत्तम मिश्रा के आदेश पर जेल अधीक्षक साहू को तत्काल प्रभाव ने मंगलवार को निलंबित कर दिया गया।
मालूम होकि सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ग्वालियर के सेंट्रल जेल में संब इंस्पेक्टर की हत्या के प्रयास के मामले में बंद एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष शिवराज यादव से मुलाकात की थी। दोनों की मुलाकात का वीडियो वायरल हो गया।  वीडियो में  दिग्विजय सिंह अधीक्षक के कैबिन में बैठ कर एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष से मुलाकात कर रहे है। वीडियो के साथ इसकी शिकायत गृहविभाग तक पहुंच गई। इसे जेल मेन्युअल का उल्लंघन मानते हुए जेल अधीक्षक मनोज साहू को निलंबित करने का निर्णय लिया गया।
क्या है मामला-
ग्वालियर के फूलबाग में एनएसयूआई के कार्यकर्ता फरवरी 2022 में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला दहन कर रहे थे। कार्यकर्ताओं से इंदरगंज के सब इंस्पेक्टर दीपक गौतम ने पुलता छीनने की कोशिश की। दीपक का आरोप है कि एनएसयूआई जिला अध्यक्ष शिवराज यादव व उसके साथियों ने एसआई के ऊपर पुतला फेंक दिया था। 45 फीसदी झुलसे दीपक को इलाज के लिए दिल्ली रैफर किया गया था। इस मामले में पुलिस ने शिवराज यादव व उसके पांच साथियों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया था। इसी मामले में शिवराज  यादव जेल में बंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.