फेसबुक पर विदेशी महिला बनकर दोस्ती कर, गिफ्ट भेजने के नाम पर ठगे 11,22,884 रूपए

फेसबुक पर विदेशी महिला बनकर दोस्ती कर, गिफ्ट भेजने के नाम पर ठगे 11,22,884 रूपए
Share on social media
जालसाज गिरोह के सरगना नाईजीरियन को सायबर क्राइम भोपाल द्वारा नोयडा से किया गिरफ्तार 
mp03.in संवाददाता भोपाल 
फेसबुक पर विदेशी महिला मित्र बनकर दोस्ती के बाद  क्रिसमस गिफ्ट भेजने के नाम पर एयरपोर्ट पर कस्टम विभाग से छुडाने का हवाला देकर 11 लाख 22 हजार 844 रूपए  की धोखाधडी करने वाले फरार नाईजीरियन आरोपी मुईट उर्फ अजीज को भोपाल सायबर पुलिस ने  नोयडा से गिरफ्तार कर लिया है।
सायबर पुलिस के अनुसार फरियादी पवन अग्रवाल ने  लिखित शिकायत की थी कि फेसबुक पर विदेषी महिला मित्र बनकर दोस्ती कर फरियादी को क्रिसमस गिफ्ट भेजा गया, जो कि एयरपोर्ट पर कस्टम विभाग से छुडाने के नाम पर फरियादी से विदेषी नागरिको के साथ मिलकर 11,22,844/-रूपये की धोखाधडी करने के संबंध में आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया था। आवेदन की जॉच की गई तथा तकनीकि साक्ष्यो के आधार पर बैंक खातो के उपयोगकर्ताओं एवं मोबाइल नंबरो के उपयोगकर्ताओं के विरूद्व अपराध क्र-10/2021 धारा 420 भादवि का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।
मामले में  एडीजी ए. साई मनोहर एवं डीआईजी  (शहर) इरशाद वली के मार्गदर्शन में एवं पुलिस अधीक्षक (दक्षिण) सांई कृष्णा थोटा के द्वारा दिए गए निर्देश के पालन में एडिशनल एसपी  अंकित जायसवाल एवं डीएसपी सायबर नीतू सिंह के मार्गदर्शन  में सायबर क्राइम ब्रान्च जिला भोपाल की टीम द्वारा इस मामले में  फरार विदेशी नाईजीरियन आरोपी को नोयडा से गिरफ्तार किया गया है।
तीन की हो चुकी गिरफ़्तारी 
 जनवरी 2021 में प्रकरण में 01 विदेषी नागरिक नाईजीरियन सहित कुल 03 आरोपीगणों को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था एवं मौके से गिरोह का सरगना नाईजीरियन मुईट उर्फ अजीज फरार हो गया था जिसे दिनांक 17.07.2021 को ग्रेटर नोयडा से गिरफ्तार किया गया है। मुईट उर्फ अजीज विजनेस बीजा पर भारत आया था तथा अन्य नाइजीरियान सहयोगियों के साथ मिलकर ग्रेटर नोयडा व दिल्ली में गिरोह बनाकर सायबर अपराध का कार्य कर रहा था। अरोपी मुईट  के कब्जे से प्रकरण में प्रयुक्त लेपटॉप, मोबाईल, बैंक पासबुक, एटीएम एवं सिम कार्ड को जप्त किया गया है।
इनकी सराहनीय भूमिका 
करवाई मैं  निरीक्षक योगिता साटनकर उनि भरत लाल प्रजापति, आर. तेजराम सेन, आर, आदित्य आर. राघवेन्द्र, आर. सुमित की अहम् भूमिका रही  (

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *