शुगर व बीपी से परेशान महिला ने कीटनाशक पीकर की आत्महत्या

शुगर व बीपी से परेशान महिला ने कीटनाशक पीकर की आत्महत्या
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 
ऐशबाग इलाके में शुगर और बीपी की बीमारी से परेशान महिला ने मंगलवार रात कीटनाशक पी लिया। उल्टियां करने पर परिजन उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे थे। वहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आई की महिला शुगर और ब्लड प्रेशर की मरीज थी। शुगर लेवल अधिक होने के कारण वह परेशान रहने लगी थी। परिजन उनका इलाज भी करा रहे थे।

पुलिस के अनुसार पदनाम नगर ऐशबाग निवासी मधु वशिष्ठ पति मनोज वशिष्ठ (52)  ग्रहणी थी। उन्हें ब्लड प्रेशर और शुगर बढऩे की बीमारी थी। उनका इलाज चल रहा था। कुछ दिन से तबीयत बिगड़ी रहने के कारण वह लगातार दवाइयां खा गई थी। बताया जाता है कि अक्सर बीमार रहने के कारण उनका दिमागी संतुलन भी बिगड़ गया था। तीन-चार दिन से वह घर में विवाद भी कर रही थी। परिजन ने बताया कि मंगलवार रात दवाइयों के साथ मधु ने घर में रखा कीटनाशक पी लिया। उल्टियां करने पर वह मधु को लेकर अस्पताल पहुंचे। वहां कुछ ही देर बाद मधु की मौत हो गई। पुलिस को मधु के पास से सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस का अनुमान है कि मधु ने बीमारी से परेशान होकर यह कदम उठाया है।

विकलांग युवक ने घर में फांसी लगाकर दी जान
बैरागढ़ इलाके में मंगलवार  शाम एक विकलांग युवक ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक इंद्रा नगर निवासी अनिल वाधवानी पुत्र संतराम (35) पैरों से विकलांग था। मंगलवार शाम करीब चार बजे उसने अपने कमरे में फांसी लगा ली थी। घटना की खबर लगते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक का शव बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सुसाइड नोट नहीं मिलने से कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस का कहना है कि परिजनों के बयान दर्ज होने के बाद कारणों का पता चल सकेगा। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *