लालच में महिला ने गंवाए कान के टाप्स और ढाई हजार रूपए

लालच में महिला ने गंवाए कान के टाप्स और ढाई हजार रूपए
Share on social media
 नोटो जैसी कागज की गड्डी दिखाकर महिला से जेवर व नकदी की ठगी
– बकरी को चारा बेचने वाली महिला से ठगी, सिंधी कॉलोनी के पास वारदात
mp03.in संवाददाता भोपाल 
बकरियों का चारा बेचने वाली महिला ने रविवार को नोटों की गड्डी के लालच में आकर कान के दोनों टाप्स और ढाई हजार रूपए गंवा दिए। पुलिस ने अज्ञात जालसाजों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर हुलिए के आधार पर उनकी तलाश शुरू कर दी है।
हनुमानगंज पुलिस के अनुसार ग्राम करधई, ईटखेड़ी निवासी भागीरथी (45) बकरियां का चारा बेचने का काम करती है। वह रविवार सुबह घर से बकरियों का चारा लेकर भोपाल बेचने आई थी। वह अक्सर चारा लेकर भोपाल बेचने आती है। चारा बेचने के बाद वह सिंधी कॉलोनी के पास एक पुलिया पर बैठी हुई थी, इसी दौरान  22-23 साल की उम्र का  लंगड़ा युवक उसके पास आया। जिसने पूछा कि उसे इटारसी जाना है, क्या यह सड़क इटारसी जाती है। इसपर  महिला ने उसे बताया कि यह सड़क बैरसिया जाती है, तुम्हें नादरा बस स्टैंड जाना होगा, वहां से बस या भोपाल स्टेशन से ट्रेन पकडऩी होगी। महिला उससे बात ही कर रही थी, इसी दौरान उसका दूसरा साथी भी अजान बनकर वहां आ गया। दोनों युवक आपस में अजान बनने का नाटक कर रहे थे। लंगड़े युवक ने किराया नहीं होने का बहाना बनाया, इस पर दया खाकर महिला ने उसे दो सो रूपए दे दिए। दूसरे युवक ने भी उसे सौ रूपए का नोट किराए के लिए दे दिया। तीनाें पैदल पैदल नादरा बस स्टैंड की तरफ जा रहे रहे थे। इसी बीच लंगड़े युवक ने महिला को झांसे में लेते हुए कहा कि सके पास दो लाख रुपए की नोटों की गड्डी है जो किसी ने दी है। अगर तुम अपने कान के दोनो टॉप्स और कुछ नगदी देदो तो तुम्हें आधी गड्डी दे सकता हूं। लंगड़े युवक ने काले कपडे़ में बंधी गड्डी दिखाई, जिसके सबसे ऊपर पचास का नाेट था।  लालच में आई महिला ने तुरंत दोनों कान के टॉप्स और पास रखे ढाई हजार रुपए दे दिए। इसके बाद लंगडे़ युवक ने काले कपडे़ की पोटली देते हुए कहा कि  यहां पर कई लोग देख रहे हैं। नोटों की गड्डी खोलकर उसमें हिस्सा बांटेगे तो कोई भी पैसे छीन सकता है। उसने महिला को कहा कि किसी गली में जाकर खुद ही रकम के दो हिस्से कर लाओ। जबतक हम सड़क पर ही चाय पीता हूं। झांसे में आई महिला पोटली लेकर दोनों युवकों को सड़क पर छोड़कर काजीकैम्प के एक गली में चली गई। गली में सुनसान स्थान पर महिला ने जैसे ही बदमाशों द्वारा नोटों की गड्डी बताकर दी गई पोटली खोली तो उसके होश उड़ गए। पोटली में सिर्फ ऊपर एक पचास की नोट रखी थी, बाकी नोटों के आकार के कागत के टुकड़े थे। दौड़ते हुए वापस महिला सड़क पर आई तो दोनों युवक वहां से फरार हो चुके थे। हनुमानगंज पुलिस दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर हुलिए के आधार पर तलाश कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *