अफ्रीकन जालसाजों की मदद से नकली नोटों का कारोबार करने वाले गिरफ्तार

अफ्रीकन जालसाजों की मदद से नकली नोटों का कारोबार करने वाले गिरफ्तार
Share on social media
  • आरोपी बेंगलुरु के अफ्रीकन मूल के स्माइल व पाल से लाते थे 500-500 के नकली नोट
– बंच नोट एक्सेप्टर मशीन में 500-500 के नकली नोट जमा करने वाला गिरोह पकड़ाया
– जालसाज गिरोह के पास से 3,68,500/- के नकली नोट बरामद 
– आईडीबीआई बैंक की टीटी नगर शाखा में जमा करते थे नकली नोट
– एक आरोपी कानपुर से गिरफ्तार, अफ्रीकन मूल के दोनों फरार

mp03.in संवाददाता भोपाल 

 भोपाल क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे जालसाज गिरोह का खुलासा किया है, जो दक्षिण अफ्रीकी मूल के दो जालसजों से बेंगलुरु से 500-500 के नकली नोट लाकर भोपाल में चलाते थे। नकली नोट चलाने वाला मुख्य आरोपी पवनीशकांत को क्राइम ब्रांच ने कानपुर से गिरफ्तार किया है। आरोपी पवनीशकांत टीटी नगर स्थित आईडीबीआई बैंक की बैंक नोट एक्सेप्टर मशीन (बैंक खाते में नकदी जमा करने वाली मशीन) से 500 रुपए के नकली नोट अपने बैंक खाते में जमा करता था। इसके बाद वह ओरिजनल नोट अन्य स्थानों से निकाल लेता था। क्राइम ब्रांच ने एक अन्य आरोपी संजय राजपूत पिता स्वा. सुन्दरलाल राजपूत उम्र 47 साल निवासी निवासी सागर, हाल मुकाम अयोध्या नगर बायपास रोड भोपाल को भी गिरफ्तार किया है। जालसाजों ने 500-500 के 47 नकली नोट कुल 23500 रुपए बैंक खाते में जमा किए थे, जिसकी शिकायत क्राइम ब्रांच से बैंक के शाखा प्रबंधक अतुल मिश्रा ने क्राइम ब्रांच में की थी।
क्राइम ब्रांच से मिली जानकारी के अनुसार जालसाज ने नकली नोट बीएनए मशीन में बने सेपेरेट बाक्स में डाल दिया था। इसके बाद पुलिस ने पता लगाना शुरू किया, मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस ने संजय राजपूत पिता स्वा. सुन्दरलाल राजपूत (47)  को पकड़कर पूछताछ की तो उसके पास से 500-500 के नकली नोट बरामद हुए।
पवनीश रुपए लेकर आता था भोपाल
पूछताछ में संजय ने बताया कि कानपुर निवासी पवनीशकांत बेंगलुरु से नकली नोट लेकर आता है और उसी के दिए हुए नकली नोट उसने बैंक खाते में जमा किए हैं। पुलिस ने कानपुर से पवनीशकांत को भी गिरफ्तार कर लिया है।
बेंगलुरु में दी दबिश
क्राइम ब्रांच की एक टीम ने आरोपियों के बताए पते के आधार पर अफ्रीकन मूल के जालसजों के बेंगलुरु स्थित ठिकाने पर दबिश दी, जहां से दोनों जालसाज फरार हो चुके थे। क्राइम ब्रांच ने वहां से नकली नोट बनाने प्रयुक्त प्रिंटर को जप्त किया गया। प्रकरण के अन्य आरोपीगण स्माइल एवं पाल बैंगलोर से फरार हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *