के नाम पर करोड़ों की ठगी करने वाला शातिर जालसाज भरत पटेल गिरफ्तार

के नाम पर करोड़ों की ठगी करने वाला शातिर जालसाज भरत पटेल गिरफ्तार
Share on social media
mp03.in संवाददाता भोपाल 
मप्र और छत्तीसगढ़ में खेतों में पाली हाउस बनाने के नाम लोगों से लाखाें करोड़ों रूपए की ठगी करने वाले ईनामी, फरारी जालसाज बदमाश को रातीबढ़ पुलिस ने धर दबोचा।
रातीबढ़ पुलिस के अनुसार आईजी भोपााल उपेन्द्र जैन, डीआईजी इरशाद वली द्वारा शहर के निवासियों के साथ विभिन्न प्रकार से ठगने वाले बदमाशों, ईनामी फरार अपराधियों की धरपकड हेतु निर्देश दिये गये है, जिसके पालन के चलते एसपी उत्तर मुकेश श्रीवास्तव,  एसपी दक्षिण साईं कृष्णा थोटा द्वारा रातीबड सुधेश तिवारी, थाना प्रभारी नजीराबाद ,भरत प्र्ताप सिंह को इस प्रवृत्ति के बदमाशों की धरपकड एवं गिरफतार हेतु आदेशित किया गया ।
प्रदेश भर में पाली हाउस के नाम पर जालसाजी करने वाले अवधपुरी निवासी भरत पटेल कई जिलों में वांछत अपराधी है। जिसकी ग्राम सरवर में कृषिभूमि है। जोकि भोले भाले ग्रामीणों को जमीन के उपर पॉली हाउस बनाने के नाम पर बैंक व उद्धान विभाग से लोन लेकर किसानों का कुछ राशि का काम करके शेष पैसा अपने उपयोग में ले लेता था, इस प्रकार से बेवकूफ बनाकर भारत पटेल द्वारा कई लोगों को ठगा गया। उसके खिलाफ  थाना कुंभराज- गुना, माधवनगर-उज्जैन,मक्सी -शाजापुर, तलेन-राजगढ , नजीराबाद- भोपाल ,रातीबड-भोपाल व छत्तीसगढ़ में धोखाधडी ,अवैध हथियार जैसे मामले दर्ज है। आरोपी की थाना रातीबड के सरवर स्थित कृषि भूमि होने से उसके मूवमेंट पर सतत् निगाह रखी जा रही थी।  मुखबिरो का जाल बिछाया गया, इसके परिणास्वरुप दिनांक गुरूवार को  मुखबिर से  सूचना प्राप्त हुई कि भरत पटेल संदिग्ध स्थिति में सरवर जोड पर खडे होकर अपने किसी साथी का इंतजार कर रहा है, इस सूचना पर थाना प्रभारी सुधेश तिवारी द्वारा हमराह पुलिस टीम के स्टाफ प्र0आर0रमेश खत्री, आर0 आलोक तिवारी, आर0 अतुल जंगजे के साथ रवाना होकर उक्त स्थान पर घेरकर आरोपी अवधपुरी निवासी भरत पटेल पिता राम खिलावन पटेल  को मय धारदार चाकू के गिरफतार किया  गया।
कर अपक्र0-279/20 धारा 25 आर्म्स एक्ट का प्रकरण दर्ज किया गया है।
कई जिलों में इनाम
कई जिलों के पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा फरार आरोपी पर ईनाम घोषित किया गया है, अभी तक 20 हजार रुपये की अन्य जिलो से ईनामी होने की जानकारी प्राप्त हुई है। आरोपी के पकडे जाने के पश्चात अन्य प्रकरण भी सामने आने की संभावना है, आरोपी द्वारा उक्त प्रकरणों में ही 3 से 4 करोड रुपये की धोखाधडी की गई है, आरोपी के फरारी अवधि में निवास करने के स्थान ,साथी दारान ,आय के स्त्रोत की जानकारी भी प्राप्त की जा रही है।
इनकी सराहनीय भूमिका ।।
    उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी, निरीक्षक, सुधेश तिवारी, प्र0आर0 रमेश खत्री ,प्र0आर0  सुनील दुबे, आर0आलोक तिवारी, आर0 अतुल जंगले, की महत्वपूर्ण व सराहनीय भूमिका रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *