रिलायंस कंपनी में नौकरी लगवाने का झांसा देकर बेरोजगार को 37 हजार रूपए की चपत

रिलायंस कंपनी में नौकरी लगवाने का झांसा देकर बेरोजगार को 37 हजार रूपए की चपत
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 

कोलार में एक बेरोजगार युवक को  रिलायंस कंपनी में नौकरी लगवाने का झांसा देकर जालसाज ने 37 हजार रुपए ठग लिए। पीड़ित कोरोना संक्रमण काल में बेरोजगार हो गया था। वहीं एक युवती को क्यू आर कोड स्कैन कराकर बदमाशों ने 52 हजार रुपए की चपत लगा दी है। कोलार पुलिस के अनुसार गुलशन पटेल कस्टम कॉलोनी कोलार में परिवार के साथ रहता है। वह प्राइवेट काम करता है। कोरोना काल में वह बेरोजगार हो गया था, इसके बाद वह अच्छी नौकरी की तलाश में था। कुछ दिन पहले उसे मोबाइल पर अच्छी नौकरी का मैसेज मिला। इसके बाद वह उस मैसेज में दिए गए लिंक को क्लिक कर ऑनलाइन आवेदन कर दिया। इसके बाद उसके पास फोन आया कि उसका आवेदन मिल गया है। यह एजेंसी उसे रिलायंस कंपनी में अच्छे पैकेज पर नौकरी में लगवा देगी। नौकरी का झांसा देकर पहले रजिस्ट्रेशन फिर अन्य कार्यों का हवाला देकर फरियादी से अलग-अलग समय में करीब 37 हजार रुपए बैंक में ट्रांसफर करा लिए। इसके बाद फोन रिसीव करना बंद कर दिया। वहीं ए-सेक्टर सर्वधर्म, कोलार में रहने वाले वीरेश पटेल के खाते से जालसाजों ने धाखाधड़ी कर पैसे निकाल लिए हैं। दोनों मामलों में साइबर ने जीरो पर प्रकरण दर्ज कर केस डायरी कोलार थाने भेजी है।
 क्यूआर स्कैन कराकर 52 हजार रुपए निकाले
कोलार थाना क्षेत्र स्थित सर्वधर्म के शिवशक्ति अपार्टमेंट में रहने वाली आरती यादव पुत्री मनीष यादव के मोबाइल पर कुछ दिनों पहले एक मैसेज आया था। मैसेज में निश्चित राशि का गिफ्ट ऑफर में मिलने का झांसा दिया गया। इसके बाद युवती को एक जालसाज ने फोन कर कहा कि आपके मोबाइल पर एक और मैसेज आया है, जिसमें क्यूआर कोड है। क्यूआर कोड स्कैन कर मांगी जाने वाली जानकारी फिल करने पर आप गिफ्ट पा जाएंगे। युवती ने क्यूआर कोड स्कैन किया तो उसके खाते से 52 हजार रुपए कट गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *