वर्चस्व को लेकर दो पक्षों खूनी संघर्ष, आधा दर्जन गंभीर घायल

वर्चस्व को लेकर दो पक्षों खूनी संघर्ष, आधा दर्जन गंभीर घायल
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 

 राजधानी के पुराने शहर में स्थित कैंची छोला में बुधवार रात शराब तस्करी व अन्य अवैध गतिविधियों में लिप्त दो पक्षों में इलाके में वर्चस्व के लिए खूनी संघर्ष हो गया। दोनों और से हथियारों से लैस आधा सैकड़ा से अधिक लोग आमने सामने हो गए। इस दौरान दोनों तरफ से तलवारें,डंडे चलाए गए। तथराव हुआ और फायरिंग भी की गई। बवाल के दौरान दोनों पक्षों के आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हुए हैं।  पुलिस ने एक पक्ष की ओर से हत्या का प्रयास,मारपीट, व फायरिंग का मुकदमा दर्ज किया है। वहीं दूसरी ओर से घर में घुसकर मारपीट करने की एफआईआर दर्ज कराई गई है। दोनों पक्षों की करीब पांच लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।
टीआई अनिल मौर्य के अनुसार कैंची छोला निवासी 32 साल का विक्की सरदार निगरानी बदमाश है। पूर्व से शराब तस्करी को लेकर उसका विवाद कुचबंदिया समाज के लोगों से चल रहा है। बीती रात इलाके मेें रहने वाले कुछ बच्चे आपस में लड़ रहे थे। विक्की ने समझाइश देते हुए बच्चों को अलग किया और कुचबंदिया समाज के एक बच्चे को चांटा मार दिया। इसके बाद में वह साथी के साथ कार से चाय पीने चला गया। देर रात चाय पीकर कार से घर लौट रहा था। इसी दौरान कुचबंदियों के कुछ लोगों ने घेरकर उसपर हमला कर दिया। आरोपियों ने लाठी-डंडे और हथियारों से लैस होकर हमला किया था। हमले में विक्की को कंधे में तलवार लगने से चोट आई है। वहीं बवाल देखकर विक्की की तरफ  से भी लोग आ गए। सभी कुचबंदियों के एक प्रमुख के घर हमला कर मारपीट कर दी। इस दौरान विक्की के भाई लक्की को सिर में तलवार लगने से गंभीर चोट आई है। लक्की की ओर से आरोप लगाया गया है कि इस हमले के दौरान कुचबंदियों ने फायरिंग की है। हालांकि टीआई का कहना है कि गोली किसी को नहीं लगी है।
– पुलिस ने मौके पर पहुंचकर भीड़ को खदेड़ा
पुलिस ने उपद्रव करने वालों को मौके से खदेड़ दिया। पुलिस के अनुसार छोला मंदिर के कैंची में एक मुंडा सरदार परिवार रहता है। इनमें से एक मोहन सरदार बजरंग दल का पदाधिकारी है। इनके आसपास कुचबंदिया के करीब 100 झोपड़े हैं। पूर्व में दोनों पक्ष अवैध शराब बेचते थे, जो अब बंद हो चुकी है। इसी को लेकर दोनों पक्ष अपना प्रभाव बनाने के लिए विवाद करते रहते हैं।
– कुछ दिन पूर्व भी हो चुका है विवाद
दोनों ही पक्ष आसपास रहते हैं। इनके बीच अवैध कारोबार को लेकर हमेशा से विवाद चलता रहता है। इनका झगड़ा इतना बढ़ चुका है कि बच्चे भी आपस में झगड़ा करते हैं। कुछ दिन पहले भी दोनों पक्षों के बीच झगड़ा हो गया था। पुलिस ने इस मामले में दोनों पक्षों पर काउंटर केस किया है। पहला मामला कैंची छोला निवासी 32 साल के विक्की सरदार पिता कालू सिंह की शिकायत पर हत्या के प्रयास समेत 6 से अधिक धाराओं में केस किया गया है। इसमें शत्रु कुचबंदिया, सुरेंद्र कुचबंदिया, राहुल कुचबंदिया, दिनेश गुजरिया को आरोपी बनाया गया। लक्की सिर और सौरभ को सिर के साथ हाथ-पैरों में चोटें आई हैं। विक्की को कंधे में चोट लगी। बंटी सरदार भी घायल हुआ है।
– दूसरे पक्ष की महिलाएं घायल
दूसरा मामला कैंची छोला निवासी 21 साल के अजय कुचबंदिया पिता धर्म सिंह की शिकायत पर विक्की सरदार, बंटी सरदार, लक्की सरदार और सौरव पर छह से अधिक धाराओं में दर्ज किया गया है। अजय और उसकी चाची रानी को हाथ में चोट लगी। घटना में विक्की ने पिस्टल से फ ायर किया। आरोपियों ने अजय को घर में घुसकर पीटा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *