कुख्यात बदमाश की मां और सटोरिए से तंग आकर रेलवे ठेकेदार ने आत्महत्या की

कुख्यात बदमाश की मां और सटोरिए से तंग आकर रेलवे ठेकेदार ने आत्महत्या की
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल

कुख्यात बदमाश की मां और एक सटोरिए से तंग आकर युवक ने बुधवार रात अपने घर में जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरु कर दी है। पुलिस को मृतक का सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने जेल में बंद एक बदमाश की मां ओर बस स्टैंड के एक सटोरिए के दवाब में आत्महत्या करने का जिक्र किया है।

पुलिस के अनुसार न्यू कबाड़खाना निवासी  रिंकू खटीक पिता जसवंत खटीक (35) रेलवे के सफाई ठेके लेता था। बुधवार रात करीब 11 बजे उसने घर में कोई संदिग्ध जहरीला पदार्थ खा लिया था। हालत बिगड़ने पर छोटा भाई उसे बेहोशी की हालत में अस्पताल लेकर पहुंचा। जहां डाक्टरों ने चेक कर उसे मृत घोषित कर दिया था। अस्पताल की सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। पुलिस ने गुरुवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया गया है। मृतक के परिजनों ने पुलिस को एक सुसाइड नोट दिया है। जिसमें मृतक ने कुख्यात बदमाश बंटी साहू की मां तथा बस स्टैंड के सट्टा कारोबारी बनी सरदार पर प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाते हुए आत्महत्या का उल्लेख किया है।  दोनों उधारी की रकम चुकाने उसे प्रताडि़त कर रहे थे।

जबलपुर जेल में बंद है बंटी साहू

कुख्यात बदमाश ने करीब चार साल पहले रेलवे के ठेके लेने की रंजिश में स्टेशन बजरिया इलाके में अपने साथियों के साथ मिलकर दो दोस्तों की हत्या कर दी थी।  जिसके बाद से ही वह जेल में बंद है। वर्तमान में वह जबलपुर जेल में सजा काट रहा है।

कौन है बली सरदार 

पुलिस की मानें को बस स्टैंड पर मोबाइल और खाने की होटल चलाने वाला बताया जाता है। जिसका भाई और बली दोनाें ब्याज का और सट्टे के कारोबार में लंबे समय से लिप्त है। संभवत: मृतक और सरदार में सट्टे का लेनदेन था, जिसको लेकर वह प्रताडित कर रहा था। सुसाइड नोट पर उसका नाम गलत लिखा हुआ बताया जाता है।

मृतक के भी आधा दर्जन से ज्यादा अपराध 

पुलिस के अनुसार मृतक रिंकू खटिक हनुमानगंज थाने की गुंडा लिस्ट में शामिल था। जुआ, सट्टा मारपीट समेत करीब 8 अपराध उसके खिलाफ दर्ज थे।

कोट्स 

मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरु कर दी गई है। परिजनों द्वारा दिए गए सुसाइड नोट जब्त कर लिया है। जिसकी की हैंड राइटिंग जांच कराई जाएगी।

गोपाल सिंह चौहान, सीएसपी हनुमानगंज 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *