यौन शोषण पीड़ित नाबालिग पीड़िता को मोसा बना चुका था हवस का शिकार

यौन शोषण पीड़ित नाबालिग पीड़िता को मोसा बना चुका था हवस का शिकार
Share on social media

Mp03.in  संवाददाता भोपाल

सिवनी जिले में रहने वाली नाबालिग के साथ एक युवक ने रेप किया। बाल कल्याण समिति ने जब किशोरी की काउंसलिंग की तो पता चला भोपाल में रहने वाले वाले उसके मौसा ने भी मार्च के महीने में उसके साथ दुष्कर्म किया था। सिवनी पुलिस ने वहां पर हुए रेप के मामले में तो केस दर्ज किया ही साथ ही जीरो पर मौसाके खिलाफ प्रकरण दर्ज कर मामला भोपाल भेज दिया। अब रातीबड़ पुलिस ने बलात्कार का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरूकर दीहै।
रातीबड़ थाना प्रभारी सुदेश तिवारी ने बताया कि 13 साल की नाबालिग सिवनी जिले में रहती है। उसकी मौसी नीलबड़ इलाके में रहती है। मार्च के महीने में वह अपनी मौसी के घर आई थी। गत 25 मार्च को जब मौसी किसी काम से घर से बाहर गई हुई थी उसी समय मौसा ने सूनेपन का फायदा उठाते हुए उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद मौसा ने किसी को कुछ भी बताने पर जान से मारने की धमकी देकर नाबालिग को चुप करा दिया। नाबालिग चुप रही तथा कुछ दिनों बाद वापस सिवनी चली गई। पिछले दिनों सिवनी में नाबालिग के मोहल्ले में रहने वाले एक युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इस प्रकरण की शिकायत मिलने पर सिवनी पुलिस ने युवक के खिलाफ बलात्कार का प्रकरण दर्ज कर लिया। चूंकि पीडि़ता नाबालिग थी इसलिए बाल कल्याण समिति ने उसकी काउंसलिग की। काउंसलिं के दौरान ही नाबालिग ने बताया कि भोपाल में रहने वाले उसके मौसा ने भी उसके साथ रेप किया था। यह कथन सामने आने के बाद सिवनी पुलिस ने जीरो पर प्रकरण दर्ज कर भोपाल भेज दिया। रातीबड़ पुलिस ने यहां पर मौसा के खिलाफ बलात्कार का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस प्रकरण में जल्द ही पीडि़ता के विस्तृत कथन लिए जाएंगे ताकि आगे की कार्रवाई की सके।
&&&&&&&&&&&&&&&&&
शाजापुर जिले में रहने वाली युवती की शादी बुधवारा इलाके में रहने वाले युवक से हुई थी। शादी के बाद कुछ दिनों तक पति व ससुराल के अन्य लोगों को व्यवहार उसके साथ अच्छा रहा बाद में वे उसे प्रताडि़त करने लगे। इसी दौरान देवर उस पर बुरी नजर रखने लगा। जब भी मौका मिलता वह महिला से छेड़ ाानी करने लगता। यह बात महिला ने अपने पति को बताई लेकिन पति ने अपने भाई को कुछ कहने के बजाए महिला को ही घर में ठीक से रहने की समझाइश दे दी। गत 25 फरवरी को महिला घर में काम कर रही थी इस दौरान देवर आया तथा उसने कहा कि कमरे से मेरे कपड़े उठा लाओ। महिला जैसे ही कमरे में पहुंची वैसे ही देवर भी वहां पर पहुंच गया था दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। इसके बाद उसने महिला के साथ रेप किया। दुष्कर्म करने के बाद वह घर से बाहर चला गया। महिला ने दुष्कर्म की बात अपने पति व तीन ननदों को बताई। चारों ने ही देवर के खिलाफ कोई एक्शन लेने के बजाए महिला को धमकाना शुरू कर दिया। महिला जब थाने में शिकायत करने जाने लगी तो चारों ने मिलकर उसे कमरे में बंद कर दिया। इस घटना के बाद महिला अपने मायके पहुंची माता-पिता व अन्य परिजनों को पूरी बात बताई। इस दौरान दोनों परिवारों के बीच बातचीत होती रही लेकिन जब ससुराल वाले देवर के खिलाफ कुछ भी करने को तैयार नहीं हुए तो मामले की शिकायत शाजापुर जिले की पुलिस को कर दी गई। चूंकि घटनास्थल भोपाल का था इसलिए जीरो पर कायमी करने के बाद प्रकरण यहां पर भेज दिया गया। थाना प्रभारी डीपी सिंह ने बताया कि जीरो पर कायम होकर प्रकरण आया है, इस मामले की जांच की जा रही है फिलहाल देवर के खिलाफ रेप करने तथा पति व नंदों के खिलाफ कमरे में बंद करने का प्रकरण दर्ज है। जांच के बाद तीन तलाक और प्रताडऩा की धारा भी बढ़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *