दिलीप बिल्डकॉन के वाहनों में कंपनी ने लगाए 57 लाख के घटिया जीपीएस, मामला दर्ज

दिलीप बिल्डकॉन के वाहनों में कंपनी ने लगाए 57 लाख के घटिया जीपीएस, मामला दर्ज
Share on social media
: जीपीएस सिस्टम लगाने के नाम पर 57 लाख की धोखाधड़ी
– वडोदरा की कंपनी ने घटिया क्वॉलिटी का सामान भेज लगाया चूना
– 12500 के हिसाब से पेमेंट लेकर सवा दो हजार कीमत वाले जीपीएस लगाए
mp03.in संवाददाता भोपाल
राजधानी की निर्माण क्षेत्र की अग्रणी कंपनी दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड के वाहनों में ग्लोबल पोजेसनिंग सिस्टम (जीपीएस) के नाम  57 लाख से अधिक की धोखाधड़ी करने वाली कंपनी के खिलाफ पुलिस ने जालसाजी का मामला दर्ज कर लिया है। मामला 9 जनवरी 2019 से 26 अगस्त 2020 का है।
चूनाभट्टी थाने पुलिस के अनुसार अजय छावरिया दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड कंपनी में असिस्टेंट मेरेजर (फ्यूल) हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि कंपनी के वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाने के लिए गुजरात के वडोदरा की ओमेटिक्स  सॉल्यूशन प्रा. लिमिटेड कंपनी से अनुबंध किया था। अनुबंध के तहत ओमेटिक्स कंपनी के संचालक तेजश बी पटेल ने करीब 250 जीपीएस अपनी कंपनी के सप्लाई कर वाहनों लें इंस्टाल कराए। जिनकी कीमत साढ़े बारह हजार रुपए प्रति जीपीएस है। इस तरह आरोपी कंपनी ने कुल 57 लाख 79 हजार रुपए की धोखाधड़ी दिलीप बिल्डकॉन कंपनी से की है।
विश्वास होने के बाद गड़बड़ी
दिलीप बिल्डकॉन को  सप्लाई करने वाली कंपनी पर भरोसा हो गया तो एक साथ 400 जीपीएस सिस्टम लगाने का ऑर्डर दे दिया। इसके बाद कंपनी ने अपनी कंपनी के अच्छी क्वालिटी के जीपीएस सिस्टम न लगाकर एक टेल्टोनिका नाम की कंपनी के 400 जीपीएस सिस्टम सप्लाई कर दिए जिनकी एक जीपीएस की कीमत सिर्फ दो हजार दो सौ रुपए ही है। उक्त जीपीएस सिस्टम के ऊपर ओमेक्टिस कंपनी ने अपना लेबल लगा दिया था, जबकि मॉल उसकी कंपनी का नहीं था। दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड ने कंपनी को सभीजीपीएस का भुगतार 12 हजार पांच सौ रुपए प्रति जीपीएस इंस्टूमेंट के आधार पर किया है।
खराब होने पर खुलासा
पुलिस के अनुसार कंपनी के वाहनों में लगे जीपीएस सिस्टम ट्रैकिंग में भी काम नहीं कर रहे, बहुत जल्दी जीपीएस खराब होने लगे तो जांच कराई गई। जांच में सामने आया कि करीब 400 जीपीएस में ओमेटिक्स कंपनी का लेबल तो लगा है, लेकिन प्रोडक्ट नकली कंपनी का है। पुलिस ने फरियादी की शिकायत पर जीपीएस सप्लाई करने वाली कंपनी के संचालक तेजश बी पटेल के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *