डेढ़ साल पहले झांसी से अगवा नाबालिग की भोपाल में संदिग्ध मौत

डेढ़ साल पहले झांसी से अगवा नाबालिग की भोपाल में संदिग्ध मौत
Share on social media

– परिजनों का आरोप, लव-जिहाद का मामला, कराया गया धर्म परिवर्तन

mp03.in संवाददाता भोपाल 
करीब डेढ़ साल पहले झांसी से अगवा एक नाबालिग की कोलार इलाके में मंगलवार को संदिग्ध परिस्थितयों में मौत हो गई। मृतका के परिजनों का आरोप है कि झांसी में उनके पड़ोस में रहने वाले एक परिवार के भोपाल निवासी रिश्तेदार ही 2019 में उनकी बेटी को अगवा कर भोपाल लाया था। जहां उसका धर्म परिवर्तन कराने के बाद उसे बंधक बनाकर रखा हुआ था। परिजनों ने झांसी में अपहरण का मामला दर्ज कराया था।

चूनाभट्टी थाना प्रभारी के अनुसार लड़की को चूनाभट्टी स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां हीमोग्लोबिन कम होने के कारण उसकी मौत हो गई। गुरुवार को मृतका के शव काे पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस फिलहाल परिजनों के आरोप की  जांच कर रही है।
क्या हैं परिजनों के आरोप?
अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के पदाधिकारी राकेश प्रजापति ने बताया कि लड़की के परिजनों का आरोप है कि लडक़ी के पड़ोस में रहने वाली मुस्लिम महिला का रिश्तेदार है ताहिर। महिला की मदद से ताहिर लडक़ी का अपहरण कर भोपाल लाया और यहां उसका धर्म परिवर्तन कराकर नाम बदल दिया। लडक़ी को गेहूंखेड़ा में ताहिर ने रखा था। जहां ताहिर का पिता उस्मान और बड़ा भाई नासिर उसकी मदद करते थे।
पुलिस ने नहीं की मदद
परिजनों का आरोप है कि करीब एक साल पहले उन्हे पता चल गया था कि उनकी बेटी भोपाल के कोलार थाना क्षेत्र में है। उसे बंधक बनाकर रखा गया है, लेकिन कोलार पुलिस ने शिकायती आवेदन देने के बाद भी कोई मदद नहीं की। बता दें कि लड़की के पिता उत्तर प्रदेश पुलिस से सेवानिवृत्त हैं। उसके कई रिश्तेदार पुलिस में हैं। आरोप है कि ताहिर के एक रिश्तेदार भी पुलिस में हैं, जिसकी वजह से भोपाल पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *