स्कूटर रिपेयर कराकर लौट रहे अधेड़ का सांची दूग्ध संघ के वाहन ने रौंदा, मौत

स्कूटर रिपेयर कराकर लौट रहे अधेड़ का सांची दूग्ध संघ के वाहन ने रौंदा, मौत
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 

इमामी गेट पर स्थित बीजेपी कार्यालय के पास से स्कूटर रिपेयर कराकर लौट रहे अधेड़ को सांची दूग्ध वाहन ने रौंद दिया। हादसे में उसकी मौत हो गई।

कोतवाली पुलिस के अनुसार हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी नारीयलखेड़ा निवासी पीटर जोसफ पिता मोहन जोसफ (55) ड्रायवरी करते थे। शुक्रवार दोपहर को अपनी एक्टिवा में मेकेनिकल काम कराने इमामी गेट गए थे। वहां से काम कराने के बाद लौट रहे थे, चंद कदम चलने के बाद पीछे से आ रहे सांची दूग्ध वाहन की चपेट में आ गए। वाहन चालक ओवरटेक करने का प्रयास कर रहा था, जिससे पीटर पिछले टायर की चपेट में आ गए। हादसे के बाद उनके सिर में गंभीर चोट आई थीं। उपचार के लिए उन्हें हमीदिया अस्पताल पहुुंचाया। जहां डाक्टरों ने चेक करने के बाद में उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं आरोपी चालक घटना के बाद वाहन छोडक़र भागने का प्रयास कर रहा था। हालांकि लोगों ने उसे पकड़ लिया। आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया गया था।

करंट लगने से मौत 

कोहेफिजा पुलिस ने बताया कि अमन खां पिता ऐजाज खां (18) मूलत: इकलेरा गांव सुजालपुर का रहने वाला था। फिलहाल वह शाहजहांनाबाद स्थित एक कमरे में अपने पांच साथियों के साथ रह रहा था। उसे आलम नाम के युवक ने कुल्फी का ठेला लगाने के लिए भोपाल बुलाया था। आलम के यहां करीब आधा दर्जन ठेले लगते हैं। आलम ने बताया कि शुक्रवार को उसकी  तबीयत खराब थी, माल बनाने के बाद में वह ठेला लगाने की हालत में नहीं था। इस कारण उसने अपना ठेला अमन से लगवाने के लिए उसे अपने बहनोई के साथ शहीद नगर स्थित कमरे पर बुलाया था। जहां पानी की मोटर चल रही थी, अमन के पांव में मोटर का तार उलझ गया, जिससे उसे जोरदार करंट लगा। एक बार उसका सिर दीवार पर टकराया, दूसरी बार एक नल पर जा लगा। जिससे उसकी मौत हो गई। हालांकि उसे हमीदिया अस्पताल पहुंचाया गया था। जहां डाक्टरों ने चेक करने के बाद में उसे मृत घोषित कर दिया।
– पत्नी नहीं लौटी तो लगा ली फांसी
तलैया पुलिस के अनुसार अकरम पिता अफसर खान (34) दुर्गा चौक पर रहता था और इलेक्ट्रीश्यिन के तौर पर काम करता था। उसकी दो शादियां हो चुकी हैं। पहली पत्नी के अलग होने के बाद उसने दूसरा विवाह किया। दूसरी पत्नी ने भी आए दिन के विवाद के बाद उसे छोड़ दिया था। अकरम ने मनाने का काफी प्रयास किया पर पत्नी नहीं लौटी। जिससे वह डिप्रेशन में रहने लगा था। परिजनों ने पुलिस को बतया कि इसी तनाव के चलते उसने आत्महत्या की है। हालांकि सुसाइड नोट नहीं मिलने से मौत के सही कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

करंट लगने से मौत

अशोका गार्डन स्थित सेमरा चौराहा पर शुक्रवार शाम को काम करते समय अनिल पुत्र सुभाष पदमाकर (28) की बिजली खंबे पर करंट लगने से मौत हो गई। वह विद्युतकर्मी था। पुलिस का कहना है कि मामले में लापरवाही की जांच की जा रही है। काम करते समय बिजली बंद क्यों नहीं की इस बात की पड़ताल की जा रही है।

– 9 वीं के छात्र ने फांसी लगाकर जान दी
नजीराबाद थाना इलाके में स्थित मीठी छापरी में रहने वाले नौवीं कक्षा के छात्र ने शुक्रवार दोपहर को अपने घर के पड़ोस में स्थित अपने ही खाली मकान में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।  पुलिस को उसके पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। परिजनों ने भी आत्महत्या का कोई कारण फिलहाल पुलिस को नहीं बताया है। खुदकुशी के समय मृतक का बड़ा भाई व अन्य परिजन अपने खेत पर काम करने गए हुए थे। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *