सागर पुलिस ने आईपीएल मैच मे सटोरियों को गिरफ्तार कर जब्त किए 24 लाख 77 हजार !

सागर पुलिस ने आईपीएल मैच मे सटोरियों को गिरफ्तार कर जब्त किए 24 लाख 77 हजार !
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 

आईपीएल मैचों के साथ ही शहर में शुरु सट्टे के कारोबार पर लगाम कसने सागर पुलिस ने मंगलवार को बड़ी कार्रवाई करते दो सटाेरियों को गिरफ्तार किया है। सटोरियों से 24 लाख 77 हजार रूपए नगदी समेत 5 मोबाइल फोन और लाखों रूपए के हिसाब-किताब के रजिस्टर जब्त किए गए हैं।

जानकारी के अनुसार जिले के समस्‍त थाना प्रभारियों को अवैध जुआ, सट़टा, हथियार एवं मादक पदार्थों के साथ साथ वर्तमान में चल रहे आईपीएल क्रिकेट मैचों में सट़टा लगाने वालों पर कार्यवाही के लिए अभियान चलाने के निर्देश दिए थे। इस दौरान थाना प्रभारी गोपालगंज को मुखबिर से सूचना प्राप्‍त हुई कि शासकीय बस स्‍टेंड पर कुछ व्‍यक्ति आइपीएल मैच में मोबाइल से सट़टे की बुकिंग लेकर हार जीत का दांव लगवा रहे है। सूचना की तस्‍दीक कर थाना प्रभारी गोपालगंज निरीक्षक सतीश सिंह और टीम ने मुखबिर के बताये स्‍थान से दो संदिग्‍ध व्‍यक्ति सोमू पिता चंद्राहस दुबे निवासी बडा बाजार मोतीनगर सागर तथा अमर पिता अशोक शुक्‍ला निवासी मोतीनगर को पकड़ा। पूछताछ में उन्‍होंने मोबाइल के जरिये आईपीएल मैच पर सट़टा लगाकर अवैध लाभ कमाना स्‍वीकार किया। पूछताछ में उन्‍होंने बताया कि वे उनके साथी शनि मोदी के लिये मोबाइल पर ऑनलाइन विभिन्‍न वेबसाइड जैसे- टाईगर777, स्‍टारबुक247, बिगबॉस9एक्‍सचेंज आदि पर क्रिकेट का सट़टा लगाकर बुकिंग शनि मोदी को देते है एवं उसका हिसाब किताब रजिस्‍टर में लेख किया जाता है एवं शनि मोदी इस बुकिंग को भरत सोनी निवासी बडा बाजार थाना मोतीनगर को देता है। आरोपी सोमू दुबे व अमर शुक्‍ल की निशानदेही पर पुलिस टीम ने शनि पिता सुनील मोदी नि0 भाग्‍योदय अस्‍पताल के पास मोतीनगर तथा भरत सोनी पिता तुलसीराम सोनी निवासी बडा बाजार थाना मोतीनगर सागर को भी गिरफ्तार कर लिया है । आरोपी शनि मोदी एवं भरत सोनी से पूछताछ करने पर उन्‍होंने मोबाइल के जरिए ऑनलाइन क्रिकेट आईपीएल पर हारजीत का दांव लोगो से लगवाकर पैसा लेना स्‍वीकार किया एवं बुकिंग का पूरा पैसा भरत सोनी के निवास स्‍थान पर रखा होना बताया। जिसे पुलिस ने  आरोपी भरत सोनी के घर की तलाशी लेने पर घर से कुल 24 लाख सत्‍तर हजार रू नगद बरामद किए। साथ ही रजिस्‍टर में किये गये हिसाब, 05 मोबाइल भी जप्‍त किए गए।  आरोपियों के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.