अबतक 56 वारदातों को अंजाम देने वाला ईनामी कुख्यात बदमाश मुख्तार मलिक ढ़ाबे पर चाय पीते पकड़ाया

अबतक 56 वारदातों को अंजाम देने वाला ईनामी कुख्यात बदमाश मुख्तार मलिक ढ़ाबे पर चाय पीते पकड़ाया
Share on social media
मुख्तार  को क्राइम ब्रांच ने पीछा कर रायसेन जिले के गौहरगंज क्षेत्र स्थित पेराडाइज ढ़ाबे से किया गिरफ्तार
1 पिस्टल और 25 जिंदा कारतूस भी बरामद 
2 मामलों में पुलिस को थी मुख्तार की तलाश 
दोनों मामलों में था 30 हजार का ईनाम 
मुख्तार के साथ उसके भाई को भी लिया हिरासत में 
mp03.in संवाददाता भोपाल 
क्राइम ब्रांच ने दो मामलों में लंबे समय से फरार चल रहे श्यामला हिल निवासी इनामी बदमाश मुख्तार मलिक

पिता मुस्तकिर उर्फ अन्नू मलिक उम्र 54 साल को रायसेन के एक ढ़ाबे से चाय पीते हुए मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। मौके से क्राइम ब्रांच ने मुख्तार के भाई एडवोकेट राजू मलिक को भी हिरासत में लिया है। हालांकि उसके खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है।
जानकारी के अनुसार मुख्तार मलिक थाना कोहेफिजा और हनुमानगंज में दर्ज दो मामलों में फरार था। मुख्तार पर थाना हनुमानगंज के अपराध में 20 हज़ार और थाना कोहेफिजा के अपराध में 10 हज़ार का इनाम था। मुख्तार के भोपाल में होने की सूचना पर वरिष्ठ अफसरों ने क्राइम  ब्रांच की टीम गठित की। क्राइम ब्रांच की टीम ने सूचना के आधार पर मुख्तार का पीछा शुरु किया, रायसेन के पैराडाइस ढाबे पर चाय पीने रूके मुख्तार की घेराबंदी कर क्राइम ब्रांच ने दबोच लिया।
आरोपी पर कुल 56 आपराधिक प्रकरण है दर्ज।
अदालत गोलीकांड से चर्चाओं में आए मुख्तार मलिक पर करीब 56 से ज्यादा अपराध हैं। भोपाल के थाना तलैया,बिलखिरिया,एमपी नगर,शाहजहानाबाद,मिसरोद,जहांगीराबाद, क्राइम ब्रांच,हबीबगंज, हनुमानगंज, कोहेफिजा एवं जिला रायसेन के थाना औबेदुल्लागंज,सुल्तानपुर,उमरावगंज  में यह अपराध  दर्ज हैं।
पैर में डली है राड 
जानकारी के अनुसार फरार चल रहा बदमाश्म मुख्तार मलिक लॉक डाउन के दौरान घर में फिसलकर गिर गया था। गंभीर रूप से घायल हुए मुख्तार के पैर में छह फैक्चर आए थे। एक बड़े ऑपरेशन के बाद उसके पैर में रॉड डाली गई थी। बीते कई दिनों से मुख्तार बैड रेस्ट पर चल रहा था।
कल जाना था नागपुर 
सूत्रों की मानें तो मुख्तार को पैर के इलाज के लिए बुधवार को नागपुर जाना था। जहां एक अस्पताल में उसका ऑपरेशन होना था। नागपुर जाने की तैयारियां लगभग पुरी हो चुकी थी। लेकिन एक दिन पहले मुख्तार पुलिस के हत्थे चढ़ गया।
मुख्तार का ही है ढाबा 
पुलिस सूत्रों की मानें तो जिस पैराडाइस ढाबे से मुख्तार को गिरफ्तार किया गया है, वह उसी का बताया जाता है। जिसे मुख्तार ने किसी को चलाने के लिए किराए पर दे रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *