मृतक नाबालिग के अपहरण के मामले में आरोपी को झांसी ले गई पुलिस

मृतक नाबालिग के अपहरण के मामले में आरोपी को झांसी ले गई पुलिस
Share on social media

– फुल पीएम रिपोर्ट भी सौंपी जाएगी झांसी पुलिस को
– पुलिस का तर्क मौत बीमारी से, इसलिए भोपाल में कार्रवई नहीं

mp03.in संवाददाता भोपाल  

 झांसी से डेढ़ साल पहले झांसी से अपहरण कर भोपाल के गेहूंखेड़ा लाई गई किशोरी की तलाश में झांसी और भोपाल पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। भोपाल की कोलार और झांसी पुलिस अगर संजीदगी से लड़की की तलाश करती तो वह जिंदा बच सकती है। यह खुलासा परिजनों के बयानों के बाद हुआ है। मालुम हो कि  17 वर्षीय लड़की को जून 2019 में कोलार के गेहूंखेड़ा निवासी ताहिर ने झांसी से अपहरण कर भोपाल लाया था और यहां उसका धर्म परिवर्तन कराकर उसका नाम तरन्नुम कर दिया और पत्नी बनाकर रखा था। बीते दिनों लड़की बीमार हो गई थी, जहां इलाज के दौरान उसकी दो दिन पहले मौत हो चुकी है। परिजनों ने भोपाल में मीडिया को बताया कि उन्हें कोलार क्षेत्र के लड़की को बंधक बनाकर रखे जाने की सूचना मिली थी। क्योंकि जिस ताहिर नाम के लड़के ने उसका अपहरण किया था, उसकी रिश्तेदारी झांसी में है। झांसी में लड़की के पड़ोस में रहने वाले मुस्लिम परिवार की एक महिला के सहयोग से ही ताहिर ने लड़की का अपहरण किया था। परिजन झासी पुलिस लेकर भोपाल भी दो बार आए थे, लेकिन भोपाल पुलिस ने सहयोग नहीं किया। चूनाभट्टी थाना प्रभारी ने बताया कि लड़की की शार्ट पीएम रिपोर्ट में बीमार और हीमोग्लोबिन की कमी से मौत होना बताया है। फुल पीएम रिपोर्ट अभी मिली नहीं है। ऐसे में यहां कोई अपराध नहीं बनता। झांसी पुलिस ताहिर को पकड़कर भोपाल से ले गई है। फुल पीएम रिपोर्ट मिलने पर झांसी पुलिस को सौंप दी जाएगी, ताकि उसके आधार पर भी कोई अपराध बने तो कार्रवाई हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *