कपड़े धो रही वृद्धा की संदिग्ध हालातों में मौत, करंट लगने से महिला की मौत

कपड़े धो रही वृद्धा की संदिग्ध हालातों में मौत, करंट लगने से महिला की मौत
Share on social media

– घर में अकेली रहती थी मृतका, टिफिन देने आए युवक ने सबसे पहले देखा शव

mp03.in संवाददाता भोपाल 

टीटी नगर थाना क्षेत्र स्थित जवाहर चौक पानी की टंकी के पास अकेले रहने वाली अविवाहित बुजुर्ग महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई।  डायल 100 को सूचना दी गई। गेट तोडक़र पुलिस ने घर में प्रवेश किया, तब शव  बरामद किया।
पुलिस ने बताया कि जवाहर चौक स्थित पानी की टंकी के पास रहने वाली कुसुम बडोरकर (76) अविवाहित थीं, जोकि  अकेले रहती थी। उनके घर टिफिन सेंटर वाला राकेश कुमार टिफिन देने आता था। राकेश उनके मकान के गेट पर टिफिन रखकर चले जाता था। शुक्रवार शाम राकेश टिफिन लेकर पहुंचा और उसने आवाज दी, लेकिन दरवाजा नहीं खुला। राकेश को लगा कि कुसुम काम में व्यस्त होगी। शनिवार सुबह करीब 11 बजे वह फिर टिफिन लेकर पहुंचा था। इस दौरान पता चला कि शुक्रवार शाम को रखा टिफिन कुसुम ने नहीं उठाया है। इसके बाद राकेश ने आवाज दी, लेकिन दरवाजा नहीं खुला। काफी देर तक आवाज देने के बाद भी अंदर से कोई आवाज नहीं आई और दरवाजा नहीं खुला तो राकेश ने डायल 100 को कॉल किया था। सूचना पर पहुंची डायल 100 और थाना पुलिस ने किसी तरह दरवाजा तोड़ा। अंदर जाकर देखने पर पता चला कि कुसुम की लाश बाथरूम में पड़ी हुई है। नजदीक ही गिले कपडे़ थी पडे़ थे, सभवत:  वृद्धा की मौत कपडे़ धोते वक्त हुई है। पुलिस ने कुसुम के इंदौर में रहने वाले रिश्तेदार से संपर्क किया। इंदौर में कुसुम की बहन रहती है। उन्होंने पुलिस को बताया कि कुसुम हार्ट की मरीज थी। वह इंदौर आती थी, लेकिन एक दो दिन रुकने के बाद वह लौट जाती थी। बुजुर्ग होने के कारण वह कुसुम को साथ रखना चाहती थी, लेकिन वह साथ रहने के लिए तैयार नहीं थी। उनका कहना था कि उन्हें पूजा पाठ करनी पड़ती है। पुलिस ने मर्ग कायम कर  शव को पीएम के लिए भेज दिया था। आज परिजन इंदौर से भोपाल आ गए है। परिजन की मौजूदगी में आज महिला का पीएम कराया जाएगा।

खेत में सब्जी तोड़ रही महिला को करंट लगा, मौत
भोपाल। बिलखिरिया थाना क्षेत्र स्थित गांव हरिपुरा बंजारा बस्ती में बेला से तुरैया तोड़ते समय महिला करंट से झुलस गई। वह घर के पीछे लगी बेला से तुरैया तोड़ रही थी, तभी सर्विस लाइन के कटे तार के संपर्क में आ गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम के लिए भेज दिया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत के सही कारणों का खुलासा हो सकेगा।
पुलिस के अनुसार 28 साल की माया बंजारा पति बाबूलाल बंजारा गांव हरिपुरा बंजारा बस्ती में रहती थी। फि लहाल वह अपने पिता के घर आई थी। उसके पिता जीतन सिंह बंजारा ने पुलिस को बताया कि उनके मकान के पीछे से सर्विस लाइन आई है। वहीं मकान के पीछे की तरफ तुरैया की बेला लगी है। शनिवार सुबह माया तुरैया तोडऩे का कहकर पीछे की तरफ गई थी, लेकिन काफ ी देर तक नहीं लौटी। परिजन जब घर के पीछे पहुंचे तो माया जमीन पर पड़ी थी। शरीर में हलचल नहीं होने के कारण परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने डॉक्टर से पूछा तो पता चला कि उसके शरीर करंट लगने के निशान मिले है। वहीं घटनास्थल का निरीक्षण करने पर पता चला कि सर्विस लाइन का केबल कुछ जगह से कटा हुआ था और वह हरी बेला के संपर्क में था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.