नौकरी और लोन के नाम पर साइबर अपराधियों ने लगाई 18 लोगों को लाखों की चपत

नौकरी और लोन के नाम पर साइबर अपराधियों ने लगाई 18 लोगों को लाखों की चपत
Share on social media

Mp03.in  संवाददाता भोपाल

शातिर जालसाजों ने  lockdown मैं ऑनलाइन नौकरी और लोन दिलाने के नाम पर करीब 18 लोगों को लाखों रुपए की चपत लगा दी। । अलग-अलग थाना क्षेत्रों में सायबर सेल के प्रतिवेदन पर पुलिस ने धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। हालांकि पुलिस ने अभी तक एक भी मामले का खुलासा नहीं किया है।

फोन पे से निकली रकमी, गाड़ी के नाम पर चपत
ऐशबाग पुलिस ने बताया कि 31 वर्षीय लक्ष्मी बाई नरेंद्र देव नगर में रहती हैं। 12 सितंबर 2020 को शातिर जालसाज ने उनके फोन पे से 45997 रुपए निकाल लिए थे। इसके अलावा गोविंद गार्डन में रहने वाली अंजू खरे ने आॅनलाइन एक गाड़ी देखी थी। पसंद आने पर रकम संबंधित व्यक्ति के खाते में डाल दी थी, लेकिन उन्हें गाड़ी नहीं मिली और पैसे भी वापस नहीं मिले।
नौकरी के नाम पर पैसे हड़पे
ऐशबाग पुलिस के मुताबिक अनुराग पंथी नवीन नगर में रहते हैं। 2 फरवरी को उनके पास फोन आया कि उन्हें नौकरी मिल जाएगी, लेकिन उसके लिए उन्हें 50540 रुपए खाते से ट्रांसफर करने होंगे। उनकी बातों में आकर अनुराग ने रकम दे दी थी, लेकिन आज तक उन्हें नौकरी नहीं मिली।
खाते से उड़ाई रकम
कोतवाली पुलिस ने बताया कि 20 वर्षीय चिंटी साहू कायस्थपुरा में रहते हैं। 1 जुलाई 2020 को उनके खाते से जालसाजों ने 16000 रुपए निकाल लिए थे। इसके अलावा मयंज जैन के खाते से भी बदमाशों ने धोखाधड़ी कर बैंक खाते से 5000 रुपए निकाल लिए थे। दोनों मामलों में केस दर्ज हुआ।
क्रेडिट कार्ड से निकाले पैसे
टीलाजमालपुरा पुलिस ने बताया कि अनिल सक्सेना राम मंदिर के पास रहते हैं। शातिर जालसाजों ने उनके क्रेडिट कार्ड से रकम निकाल ली थी। ये रकम कैसे निकली, इसका खुलासा नहीं हो सका है। इसके अलावा कांग्रेस नगर में रहने वाले सैय्यद साजिद अली के पास दो नंबरों से फोन आया और उनके खाते से पैसे निकल गए।
बाइक बेचने के पर नाम पर ठगी
शाहजहानाबाद पुलिस ने बताया कि कन्नू सिंह चौहान मुर्गी बाजार में रहते हैं। उन्हें बाइक बेचने के नाम पर जालसाजों ने 23 रुपए की चपत लगा दी। रकम उनके खाते से निकाली गई है। वहीं गौतम नगर पुलिस ने बताया कि शंकर लाल के खाते से बदमाशों ने धोखाधड़ी कर पांच हजार रुपए निकाल लिए थे।
आनलाइन निकाले पैसे
मंगलवारा पुलिस ने बताया कि सुनील मालवीय के मोबाइल पर 14 फरवरी 2020 को फोन आया था। उनके खाते से जालसाजों ने 16699 रुपए निकाल लिए थे। इसके अलावा निशातपुरा में रहने वाले मनीष सिंह के खाते से जालसाज ने पांच हजार रुपए निकाले थे। वहीं ऐलेक्जेंडर कॉलोनी निवासी सौरभ गुप्ता के बैँक खाते से 9000 रुपए निकाल लिए।
लोन दिलाने के नाम पर जालसाजी
छोला मंदिर पुलिस ने बताया कि पूजा सोनी के बैंक खाते से जालसाजों ने 35799 रुपए निकाल लिए थे। घटना 8 दिसंबर की होना बताई जा रही है। उधर धर्मेंद्र शर्मा को जालसाजों ने लोन दिलाने का झांसा देकर 5400 रुपए ऐंठ लिए थे। इसके अलावा शकुन बाई के बैंक खाते से जालसाज ने मोबाइल के माध्यम से 16000 रुपए निकाल लिए।
तीन लोगों से खाते से उड़ी रकम
गांधीनगर पुलि सने बताया कि बीडीए कॉलोनी में रहने वाली प्रियंका नामदेव के खाते से जालसाजों ने 25800 रुपए निकाल लिए थे। उधर बैरसिया निवासी श्वेता सोलंकी के खाते से ठगों ने 18000 रुपए गायब कर दिए। वहीं र्इंटखेड़ी के इस्लामनगर निवासी हरिओम विश्वकर्मा के खाते से जालसाजों ने 58999 रुपए निकाल लिए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *