ऑटो डीलर का अपहरण करने वाले कुख्यात बदमाश और उसका साथी पकड़ाया

ऑटो डीलर का अपहरण करने वाले कुख्यात बदमाश और उसका साथी पकड़ाया
Share on social media
– अपहरण कर मारपीट करने वाले बदमाशों को कोतवाली पुलिस ने किया गिरफ्तार
mp03.in संवाददाता भोपाल 
अपने साथी के साथ मिलकर कोतवाली इलाके से गत सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात एक ऑटो डीलर को अगवा करने वाले
राजधानी के कुख्यात बदमाश ओर उसके साथी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस के अनुसार   वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में थाना कोतवाली के अपराध क्र.423/20 धारा-365,294,323,506,34 भादवि के प्रकरण मे आरोपी (1) हसीन उर्फ पप्पू चटका पिता मोहम्मद सईद कुरैशी उम्र-29 साल नि.म.न.-462 छोटी मस्जिद के पास रोशनपुरा थाना अरेराहिल्स भोपाल (2) शाहरूख पिता अलीम खाँन उम्र -22 साल निवासी म.न-59 गली न -02 सूचना प्रकाशन कार्यालय के पीछे रोशनपुरा थाना अरेरा हिल्स भोपाल को आज वदिनांक-14/11/2020 को थाना प्रभारी निरीक्षक प्रफुल्ल श्रीवास्तव हमराह स्टाँफ बल उप निरी. राजेन्द्र सिह ठाकुर,सउनि जितेन्द्र केवट,आर.1749 रामअवतार शर्मा,आर.3035 राजेश भारती की टीम के द्वारा आरोपी हसीन उर्फ पप्पू चटका, शाहरूख को गिरफ्तार किया गया ।
क्या था मामला 
30 वर्षीय विश्वनाथ मालवीय पिता सुभाष मालवीय पुराना कबाडख़ाना जुमेराती में एक दुकान का संचालन करता है तथा ऑटो डीलिंग का कार्य भी करता है। विगत दिनों उसने लालघांटी निवासी रवि पंजवानी से एक आई-20 कार को खरीदी थी। बाद में पंजवानी ने अन्य स्फिट डिजायर कार को फरियादी को दिया और आई-20 दोनों की सहमती के बाद वापस ले ली। सोमवार को दिन में विश्वनाथ के पास में किसी प्रकाश सिंह राजपूत का काल आया। जिसने बताया कि स्फिट कार उसकी है। कार उसे वापस कर दो, फरियादी ने कार को रवि से खरीदने की बात की। यह कहकर कार लौटाने से मना कर दिया कि जो लेन-देन अथ्वा अन्य बात है उससे करो, कार में सीधे नहीं लौटाउंगा। इसके बाद में प्रकाश ने सोमवार की देर रात उसे कॉल किया और कहां हो यह पूछा। इस समय पीडि़त अपने दो साथियों के साथ में पुराना कबाडख़ाना कोतवाली इलाके में खड़ा था। आरोपियों ने कहा की वहीं आ रहे हैं बात करनी है। जिसके बाद जहांगीराबाद का निगरानी बदमाश पप्पु चटका,उसका साथी हर्षवर्धन और प्रकाश एक साथ आए और गालियां देते हुए चाकू की नोक पर फरियादी को एक बाइक पर बीच में बैठा लिया। जबकि एक अन्य बाइक हर्षवर्धन लेकर पीछे चल रहा था। आरोपी उसे लेकर शाहपुरा के एक मैदान में पहुंचे और मारपीट की। वहां उसे चाकू अड़ाकर कार लौटाने की बात कही नहीं तो जान से मारने की धमकी दी। तब पीडि़त ने तड़के आरोपियों से घबराकर अपने साथियों से कार मंगवाई और आरोपियों के हवाले कर दी। जिसके बाद में उसे छोड़ दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *