गुना में तीन पुलिसकर्मियों की शाहादत, आईजी हटाए गए !

गुना में तीन पुलिसकर्मियों की शाहादत, आईजी हटाए गए !
Share on social media

mp03.in संवाददाता गुना 

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के गुना (Guna) में शुक्रवार रात काले हिरण का शिकार करने वाले शिकारियों की घेराबंदी करने वाले एक एसआई समेत तीन पुलिसकर्मियों की आरोपियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। जिन पुलिसकर्मियों की हत्या हुई है उसमें SI राजकुमार, हवलदार संतराम मीना और सिपाही नीरज भार्गव शामिल हैं। जबकि तीन अन्य पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस मुठभेड़ में एक शिकारी नौशाद की भी मौत हो गई।

मिली जानकारी के अनुसार गुना जिले के आरोन थाने के पुलिसकर्मियों को जानकारी मिली कि पास के जंगल में कुछ शिकारी काले हिरण के शिकार के लिए रुके हुए हैं, जिस पर 6 लोग उन्हें घेरने के लिए वहां पहुंचे। जिसके बाद शिकारियों और पुलिस पार्टी का आमना-सामना हुआ। इसी दौरान शिकारियों ने पुलिस टीम पर ताबड़ तोड़ गोलियां बरसाना शुरु कर दी। शिकारियों की गोली से एक एसआई और 2 सिपाहियों की मौत हो गई।  घटना में तीन सिपाही घायल भी हो गए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि पुलिस की फायरिंग में घायल नौशाद का शव पुलिस ने नजदीक गांव से बरामद कर लिया।

 

आईजी हटाए गए, वर्मा को दी कमान

घटना से नाराज और मौके पर पहुंचने में लेटलतीफी के चलते मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तत्काल प्रभाव से आईजी ग्वालियर अजय शर्मा को हटा दिया। शनिवार दोपहर एडीजी एसएएफ डी श्रीनिवास वर्मा को ग्वालियर रेंज एडीजी बनाया गया है।

*भतीजी के निकाह में परोसना था काले हिरण का गोश्त*
पुलिस आई तो हमला कर दिया 
गुना के आरोन में शिकारियों और पुलिस से बीच हुई मुठभेड़ में नई जानकारी सामने आई है। शिकारियों ने अपने परिवार में हो रही शादी में  बारातियों के स्वागत के लिए काले हिरण और मोर का शिकार किया था। दरअसल, पुलिस फायरिंग में मारे गए नौशाद की भतीजी का शनिवार को निकाह था, जिसमें मेहमानों को मीट परोसा जाना था। उसी के लिए शिकारियों ने काले हिरणों का शिकार किया था। रात में इन्हें लाते समय उनकी पुलिस से मुठभेड़ हो गई, जिसमें नौशाद  मारा गया। वहीं, तीन पुलिसकर्मी भी शहीद हो गए।

तीन अन्य सिपाही हुए घायल

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *