रिश्वतखोर नगरनिगम अधिकारी के ठिकानों पर लोकायुक्त का छापा

रिश्वतखोर नगरनिगम अधिकारी के ठिकानों पर लोकायुक्त का छापा
Share on social media
– नगर निगम जोन -5 के सहा. स्वास्थ्य अधिकारी अजय श्रवण  के खिलाफ दर्ज हुआ धारा 7 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण 
mp03.in संवाददाता भोपाल 
पालीथिन बैग के कारोबार में कार्रवाई न करने के एवज में हर महीने  10 हजार रूपए की घूंस  मांगने वाले नगर नगम जोन 5 के सहायक स्वास्थ अधिकारी अजय श्रवण के खिलाफ लोकायुक्त संगठन ने भ्रष्टाचार निवारण के तहत मामला दर्ज कर लिया है। जबकि कारोबारी से सहायक स्वास्थ्य अधिकारी के लिए रिश्वत के पैसे  लेने पहुंचे अधिनस्थ कर्मचारी सतीष टांक को लोकायुक्त टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। हालांकि ट्रेप की जानकारी लगने के बाद नगर निगम अधिकारी अजय श्रवण फरार हो गया।
लोकायुक्त पुलिस के अनुसार सिंधी कॉलोनी निवासी पंकज खूबचंदानी पॉलीथिन बैग के विक्रेता हैं। नगर निगम जोन क्रमांक 5 के स्वास्थ्य अधिकारी श्री अजय श्रवण द्वारा आवेदक को प्लास्टिक की थैलियों के व्यापार को निर्बाध रूप से करने के एवज में ₹10000 प्रति माह की राशि की मांग की गई थी। जिसकी शिकायत कारोबारी ने लोकायुक्त एसपी मनू व्यास से की थी। लोकायुक्त पुलिस ने दोनों पक्षों के बीच लेनदेन की रिकार्डिंग के बाद ट्रेप की योजना बनाई। शुक्रवार को अजय श्रवण ने नगर निगम भोपाल के सफाई सुपरवाइजर सतीश टाक को रिश्वत की राशि 10 हजार रूपए लेने पंकज खूबचंदानी के पास भेजा । भोपाल रेलवे स्टेशन के बाहर जैसे ही फरियादी से सतीश टाक ने  10000 प्राप्त किए, लोकायुक्त टीम ने उसे दबोच लिया। मौके से अजय श्रवण फरार हो गया। जिसके बाद कायुक्त टीम की घर समेत विभिन्न ठिकानों पर छापेमार कार्रवाई की। श्रवण के  B-65 सुख सागर कॉलोनी पीपुल्स माल के पास स्थित मकान की तलाशी ली गई। तलाशी के दौरान कुल रु 32,89,391/-की घर मे रखे समान की इन्वेंट्री तैयार की गई। इसके अतिरिक्त करीब 2,28,100  रु के सोने चांदी के आभूषण व 12,290 रु नगद प्राप्त हुए। संपत्ति संबंधी दस्तावेज में आरोपी के निवासरत मकान के दस्तावेज , एल.आई.सी. हाउसिंग लोन के दस्तवेज़, रॉयल एनफील्ड दो पहिया के दस्तवेज़ किंतु उक्त वाहन घर पर नही मिला है।  अलग अलग चार बैंको में खाते, सिंडिकेट बैंक में एक लॉकर की चाबी प्राप्त हुई है। घर पर दो पहियाँ अथवा चार पहिया वाहन नही मिला। मकान की कीमत लगभग 45 लाख रुपए आंकी गई है।
कार्रवाई में यह रहे शामिल 
एसपी मनू व्यास के निर्देशन पर हुई कार्यवाही में डीएसपी संजय शुक्ला, निरीक्षक उमा कुशवाहा ट्रेप कर्ता अधिकारी, निरीक्षक विकास पटेल , प्रधान आरक्षक मुकेश सिंह , आरक्षक अवध वाथवी, आरक्षक बृज बिहारी पांडे , आरक्षक विनोद मालवीय शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *