दोस्त के साथ मिलकर कलयुगी बेटे ने ही पिता को उतारा था मौत के घाट !

दोस्त के साथ मिलकर कलयुगी बेटे ने ही पिता को उतारा था मौत के घाट !
Share on social media

ग्‍वालियर पुलिस ने किया अंधेकत्‍ल का पर्दाफाश

mp03.in  संवाददाता भोपाल 

ग्वालियर पुलिस ने पुरानी छावनी के ग्राम रायरू में हुए अंधे कत्ल का पर्दाफाश कर लिया है। पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाले मृतक के बेटे और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों द्वारा वारदात में प्रयुक्त देशी कट्टा भी जब्त कर लिया है।

ग्वालियर पुलिस के अनुसार छह दिन पहले थाना पुरानी छावनी क्षेत्रांर्तगत रायरू गांव के पास अज्ञात व्यक्ति का शव मिला था। जिसकी अज्ञात व्यक्तियों द्वारा सिर पर चोट देने और गला दबाकर हत्या की गई थी। सूचना पर थाना प्रभारी पुरानी छावनी ने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुए घटनास्थल पर पहुंचकर अज्ञात मृतक के संबंध में आस-पास के इलाको में पूछताछ की। पूछताछ के दौरान पुलिस को ज्ञात हुआ कि मृतक का नाम राजेन्द्र राजपूत पुत्र स्व0 श्री रामरतन राजपूत उम्र 53 साल निवासी रायरू गांव थाना पुरानी छावनी है, मृतक के परिजनों से पुलिस टीम द्वारा पूछताछ किये जाने पर बताया कि मृतक राजेन्द्र प्रतिदिन खेत पर पानी देने जाता था घटना वाले दिन भी वह खेत पर पानी देने गया था परन्तु वापस घर लौट कर नहीं आया। मृतक के भाई की रिपोर्ट पर से थाना पुरानी छावनी पुलिस द्वारा अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध हत्या का प्रकरण पंजीबद्ध कर आरोपियों की तलाश की जा रही थी। इस अंधे कत्ल को गंभीरता से लेते हुए एसपी ग्वालियर अमित सांघी ने एडिशनल एसपी मध्य पंकज पाण्डे तथा सीएसपी  महाराजपुरा रवि भदौरिया के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी पुरानी छावनी टीआई सुधीर सिंह कुशवाह के नेतृत्व में टीम का गठित की।

विवेचना के दौरान ज्ञात हुआ कि घटना में मृतक के पुत्र तथा उसके दोस्त की भूमिका संदिग्ध है। सूचना पर दोनों के संबंध में जानकारी एकत्रित करने पर ज्ञात हुआ कि मृतक के पुत्र पर काफी कर्जा था तथा उसकी गांव के एक लड़के से अच्छी दोस्ती थी अपने दोस्त से भी मृतक के पुत्र ने काफी कर्जा लिया था। उक्त दोस्त मृतक से कर्जा के पैसे मांग रहा था। मृतक के पुत्र के दोस्त से सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने स्वंय तथा मृतक के पुत्र के साथ मिलकर पूरी घटना अंजाम देना स्वीकार किया। दोस्त की निशानदेही पर मृतक के पुत्र को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की गई। पुलिस को पूछताछ में मृतक के पुत्र ने यह बताया कि उस पर काफी कर्जा हो गया था। जिसको चुकाने के लिये उसने अपने पिता से कई बार रूपयों की मांग भी की थी। पिता द्वारा रूपये देने से मना किया जाने पर उसने अपने मित्र के साथ मिलकर पिता की हत्या करने की योजना बनाई। पुलिस द्वारा आरोपियों की निशानदेही पर खून से सने कपड़े 315 बोर के कट्टे मय जिंदा राउण्ड को नाले से जप्त कर लिया गया। थाना पुरानी छावनी पुलिस द्वारा दोनो आरोपियों को हत्या के प्रकरण में गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया जाएगा।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम 

26 फरवरी को जब राजेन्द्र खेत से वापस घर आ रहा था, तो बेटे के साथी द्वारा उन पर कट्टे से फायर किया जिससे वह बच गये फिर बेटे उनके गले में पड़ी साफी से उनकी गला घोट दिया । जबकि दोस्त ने कट्टे के बट से उनके सिर पर तब तक वार किया जब तक की वह मर नही गये। कपड़ों पर खून लगने से दोनाें रेल्वे क्रांसिग के पास नाले पर पहुंचे यहां कट्टे और खून से सने कपडों को नाले में फेंक दिया तथा घर आ कर पिता को खोजने का नाटक करने लगे। पिता का शव मिलने पर शक ना हो इसलिये आरोपी बेटा,  पिता की मृत्यु के आघात से वेहोश होने का नाटक कर अस्पताल में भर्ती हो गया। इसके बाद उसने शांतिपूर्ण तरह से उनका अतिंम संस्कार भी किया।

इनकी सरहानीय भूमिका

आरोपियों की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी पुरानी छावनी निरीक्षक सुधीर सिंह कुशवाह, उपनिरीक्षक अजय सिंह सिकरवार, आरक्षक  रवि,  विष्णू जादौन,  विक्रम,  ओकेश्,  बृजेश, सैनिक  शायर हुसैन की सराहनीय भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *