प्रेमी के साथ रायसेन से भाग कर भोपाल आई कलयुगी मां ने ही दूधमूंही बच्ची को जिंदा तालाब में फेंककर हत्या की थी

प्रेमी के साथ रायसेन से भाग कर भोपाल आई कलयुगी मां ने ही दूधमूंही बच्ची को जिंदा  तालाब में फेंककर हत्या की थी
Share on social media
प्रेमी के साथ भागी युवती ने भोपाल आकर फेंक दी थी बच्ची
– औबेदुल्लागंज स्टेशन के पास से हुई थी फरार, पुलिस कर रही प्रेमी और युवती की तलाश
– तलैया पुलिस महज दो दिन में किया वारदात का खुलासा
mp03.in संवाददाता भोपाल 
तलैया थाना क्षेत्र स्थित शीतलदास की बगिया में शुक्रवार सुबह मिली 9 महीने की मासूम की पहचान हो गई है। बच्ची को उसकी मां ने ही जिंदा तालाब में फेंककर मारा था। महिला अपने रायसेन स्थित ससुराल से प्रेमी के साथ भाग कर भोपाल आई थी।  प्रेमी के साथ वीआईपी रोड पर घूमने के बाद उसने बच्ची को जिंदा ही तालाब में फेंक दिया था। अगले दिन बच्ची का शव बडे़ तालाब से बाहर निकालते हुए गोताखोरों ने वीडियो बनाया था। जब यह वीडियो सोशल साइट पर तेजी से वायरल हुआ तो पूरे मामले का खुलासा हो ही गया।
टीआई डीपी सिंह ने बताया कि गत 16 सितंबर की सुबह सोनम अपनी बच्ची सानवी को लेकर घर से बिना बताए निकल गई थी। तलाश करने के बाद भी जब उसका पता नहीं लगा तो परिजन शाम को औबेदुल्लागंज थाने पहुंचे और गुमशुदगी दर्ज कराई। उसी रात करीब एक बजे सोनम रायसेन स्थित अपने मायके पहुंची। मायके पक्ष को पता चला कि बेटी बिना बताए आई है, तो उसे घर के अंदर आने से मना कर दिया गया। सोनम पास ही रहने वाले एक परिवार के घर रुक गई। सुबह सोनम दोबारा मायके पहुंची, वहां  कुछ देर परिजन के साथ रहने के बाद वह फिर से चली गई। शक होते ही कि बेटी शिवम के साथ भागी है तो वह कोतवाली थाने पहुंचे और शिवम और बेटी के भागने की सूचना दी।
शिवम ने भाई को भोपाल आना बताया
कोतवाली पुलिस ने शिवम की तलाश करते हुए घर पहुंची, लेकिन वह नहीं मिला। पुलिस आने पर भाई ने शिवम को कॉल किया तो उसने काम से भोपाल आने की बात कही।
गोताखोरों ने रोते हुए देखा था 
बड़े तालाब स्थित वीआईपी रोड पहुंची और लोगों की नजर बचाकर बेटी को बड़े तालाब में फेंक दिया। हालांकि उसे ऐसा करते हुए किसी ने भी नहीं देखा था। वह रैलिंग के पास खड़े होकर जब रो रही थी, तभी गोताखोरों ने उसे देख लिया था। उसके पास जाकर पूछा तो सोनम ने बताया कि उसका पति से विवाद हो गया है। गोताखोरों ने उसे वहां से दूर हटने का कहा तो कहने लगी कि पति आने वाले हैं, वह उनके साथ चली जाएगी। साथ ही उसने कॉल पर किसी युवक से गोताखोर की बात भी कराई। कुछ समय बाद एक युवक मौके पर पहुंचा। उसने बताया कि उसका नाम शिवम है और वह रायसेन का रहने वाला है। महिला को अपनी पत्नी बताते हुए साथ लेकर जाने और घटना-दुर्घटना के लिए खुद ही जिम्मेदार होने की बात कही थी।
रायसेन से लगा सुराग 
सोशल मीडिया पर बच्ची के शव के फोटो और गोताखोरों द्वारा बनाया गया वीडियो वायरल हुआ। जिसे देखने के बाद  रायसेन के एक व्यक्ति ने संबंधित महिला के बारे में जानकारी ली तो पता चला कि वह घर से लापता है। सूचना के बाद पुलिस ने महिला के परिजनों से संपर्क किया तो पति जितेंद्र ने घटनाक्रम बताया। इसके बाद परिजन भोपाल पहुंचे और बच्ची की शिनाख्त कर ली।

कोटस 

बच्ची की पहचान सानवी पुत्री जितेंद्र चौरसिया (9 माह) निवासी रेलवे कालोनी औबेदुल्लागंज जिला रायसेन के रूप हुई है। बच्ची के पिता, चाचा और अन्य परिजनों ने उसकी शिनाख्त की है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि बच्ची की मां सोनम (24) ने ही उसे 17 सितंबर की शाम को बड़े तालाब में फेंका था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। इसके बाद से वह शिवम नामक युवक के साथ गायब हो गई। इस मामले में हत्या का केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई के लिए डायरी रायसेन भेजी जा रही है।
डीपी सिंह, टीआई तलैया 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *