घर में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से हवलदार की मौत

घर में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से हवलदार की मौत
Share on social media
  mp03.in संवाददाता भोपाल 
दो दिन पहले शाम को अपने मकान के छत पर एक पाइप को उठाकर दूसरे स्थान में रखने के दौरान घर के बगल से निकली हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक प्रधान आरक्षक (वाहन चालक)की करंट लगने से मौत हो गई है। रातीबड़ पुलिस के अनुसार भगवान सिंह राजपूत पुत्र किशन सिंह राजपूत (56) सूरज नगर में परिवार के साथ रहते थे और एमटी शाखा में पदस्थ थे। वर्तमान में वे पुलिस लाइन में तैनात थे। 22 सितंबर की शाम करीब पांच बजे वे अपने मकान की छत पर रखे लोहे की एक पाइप को हटाकर दूसरे स्थान पर रखने ले जा रहे थे, तभी पाइप का एक कोरोना घर के किनारे से निकले हाईटेंशन लाइन से टच हो गया। पाइप में करंट से बड़े झटके के साथ भगवान सिंह अपनी छत पर गिर गए। परिजनों और पड़ोसियों ने उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां बीती देर रात उनकी मौत हो गई। आज उनका पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।
दो मंजिल ऊपर से गिरे मैकेनिक की मौत
एमपी नगर पुलिस के अनुसार इरफान हुसैन पुत्र आरिफ हुसैन (25) अशोका गार्डन का रहने वाला था। वह एसी सुधारने का काम करता था। पुलिस ने बताया कि 23 सितंबर को करीब तीन बजे वह अरेरा हिल्स स्थित बैंक ऑफ इंडिया के पास दो मंजिला ऊपर एक कार्यालय की एसी सुधार रहा था। एसी सुधारते समय वह अचानक नीचे गिर गया, गंभीर रूप से घायल अवस्था में उसे सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया, जहां कुछ देर बाद उसे मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। इस मामले में जिसकी भी लापरवाही सामने आएगी, उसके खिलाफ प्रकरण दर्ज किया जाएगा।
वहीं मूलत: रीवा निवासी 23 वर्षीय अवनीश साकेत पिता छोटेलाल साकेत  कल हबीबीबंज रेलवे स्टेशन पर उतरा। इसके बाद उसके पैर में बहुत तेजी से दर्द शुरू हो गया। इलाज कराने के लिए उसे जय प्रकाश अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां कुछ ही घंटे बाद उसकी मौत हो गई। मौत के स्पष्ट कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस ने अभी परिजनों के बयान भी दर्ज नहीं किए हैं। परिजनों ने मामले को संदिग्ध बताते हुए इलाज में लापरवाही के भी आरोप लगाए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *