पोती को लेने पहुंचे दादा की नाना-मामा ने मारपीट कर हत्या के बाद खेत में फेंकी थी लाश

पोती को लेने पहुंचे दादा की नाना-मामा ने मारपीट कर हत्या के बाद खेत में फेंकी थी लाश
Share on social media

– शार्ट पीएम में खुलासा सिर हाथ पांव में मुंडी चोटें, गला घोंटने से हुई मौत
mp03.in संवाददाता भोपाल 

नजीराबाद के एक खेत में मिली अधेड़ के शव की पीएम रिपोर्ट के बाद पुलिस ने बहू समेत सात परिजनों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया हे। रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि मौत से पूर्व मृतक के साथ मारपीट की गई थी। उसके सिर हाथ व पांव में मुंडी चोटें हैं। इसी के साथ गला घोंटने के कारण दम घुटने से उसकी मौत हुई है। सभी आरोपी घर में ताला लगाकर फरार हो गए हैं। पुलिस उनके संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है।
पुलिस के अनुसार सीआरकला गांव निवासी  पूरन बंजारा पुत्र कालूराम बंजारा (50) किसानी और मजदूरी काम करता था। उसके बड़े बेटे ने एक साल पहले फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। जिसके बाद से ही बहू अपने गांव हरिपुरा में स्थित मायके में रह रही है। उनकी ढाई साल की पोती भी बहू के पास है। पूरन को सूचना मिली थी कि बहू दूसरी शादी कर रही है। जिसके बाद में वह पोती को लेने बहू के मायके पहुंचे थे। जिसके विरोध में बहू उदी बाई, उसकी मां मंगा बाई, पिता दल्ला बंजारा, भाई रामलाल,किशनलाल,तुलसीराम, बलराम व अन्य दो तीन लोगों ने पूरन के साथ मारपीट कर दी।
इसी गांव में पूरन की भतीजी रहती है, चाचा के साथ मारपीट होती देख उसने बीच बचाव किया। बाद में चाचा घर जाने का बोलकर वहां से निकल गए। पूरन रात गांव नहीं पहुंचा। सीआरकला से हरिपुरा के बीच एक किलो मीटर का फासला है। मृतक के परिजनों ने शुक्रवार तड़के उसकी तलाश की तो अपने गांव से करीब आधा किलोमीटर दूर पूरन की बॉडी सड़क किनारे एक पटेल के खेत में लावारिस हालत में मिली। शव पर उपरी चोटों के निशान नहीं थे। हालांकि उसके गले में रस्सी का निशान मिला है। प्रारंभिक जांच से ही पुलिस का अनुमान था कि पूरन की गला घोंटकर हत्या की गई और बॉडी को खेत में फैंक दिया गया। हत्या का संदेह बहू के मायके वालों पर था।
कोट्स 
मृतक की शॉर्ट पीएम में मारपीट के साथ गला घोंटकर हत्या करने की पुष्टी हुई है। पूरन के बेटे की शिकायत पर सात नामजद आरोपियों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। सभी की तलाश की जा रही है।
बीपी सिंह, थाना प्रभारी, नजीराबाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *