जालसाज बेटी ने बुजुर्ग पिता को लगाई 1 करोड़ की चपत

जालसाज बेटी ने बुजुर्ग पिता को लगाई 1 करोड़ की चपत
Share on social media

 पिता की शिकायत पर बेटी पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज
– आरोपी महिला के पति भोपाल के प्रतिष्ठित डॉक्टर हैं
mp03.in संवाददाता भोपाल
शहर के प्रतिष्ठित डॉक्टर की पत्नी ने अपने बुजुर्ग पिता के साथ एक करोड़ रुपए की जालसजी की। पूर्व में भी आरोपी महिला विदेश में रहने वाले अपने भाई और एक बहन के खिलाफ मारपीट का प्रकरण दर्ज करा चुकी है। पिता ने मकान बेचने के लिए हुए समझौते के तहत एक करोड़ रुपए का डीडी अपनी बेटी को दिया था। जिसमें शर्त भी कि वह मकान की रजिस्ट्री होने के बाद ही डीडी केश कराएगी। लेकिन जालसाज बेटी ने मकान की रजिस्ट्री पर
मां से आपत्ति लगवाने के बाद डीडी अपने खाते में कैश करा लिया। हबीबगंज पुलिस ने जांच के बाद पिता की शिकायत पर बेटी के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में यानत का प्रकरण दर्ज कर लिया है।

हबीबगंज थाने के एएसआई मनोज यादव के अनुसार ई-3, अरेरा कॉलोनी निवासी 85 वर्षीय कैलाशचंद्र भण्डारी व्हीलचेयर पर चलते हैं। उनका एक बेटा और दो बेटियां हैं। बेटा विदेश में रहता है, जबकि एक बेटी प्रतिभा भंडारी ई-2 में रहती है, उसके पति पारस कोठारी भोपाल के प्रतिष्ठित चिकित्सक हैं। कैलाशचंद्र अपना ई-3 स्थित मकान बेचना चाहते हैं। जिसे बेचने से ई-2 स्थित ससुराल में रहने वाली उनकी बेटी मना कर रही थी। इसी बात को लेकर पहले भी दोनों पक्षों में विवाद हो चुका है। कैलाशचंद्र की पत्नी भी इसी बेटी के साथ रहती हैं। जबकि विदेश में रहने वाला बेटा और एक बेटी उनके साथ हैं। मकान बेचने के लिए भण्डारी ने दोनों बेटियों और बेटा-पत्नी के साथ बैठकर समझौता किया। समझौता हुआ कि मकान बेचने का विरोध करने वाली बेटी प्रतिभा भण्डारी को एक करोड़ रुपए की डीडी दे दी जाए।
जब मकान बिक जाएगा तो प्रतिभा डीडी अपने खाते में कैश करा लेगी। समझौता होने के बाद मामला शांत हो गया। लेकिन प्रतिभा ने मकान बेचने पर आपत्ति लगवाकर डीडी अपने खाते में केश करवा लिया। पुलिस बुजुर्ग पिता की शिकायत पर आरोपी बेटी के खिलाफ जालसाजी का मामला दर्ज कर लिया है।
– मां के नाम सेे लगवा दी आपत्ति
विवेचना अधिकारी ने बताया कि सात जनवरी को समझौता होने पर कैलाशचंद्र भण्डारी ने बेटी प्रतिभा के नाम एक करोड़ रुपए की डीडी बनवाकर दे दी। इसके बाद उन्होंने मकान बेचने का विज्ञापन दे दिया। विज्ञापन देने के बाद प्रतिभा ने अपनी मां के नाम से मकान बेचने पर आपत्ति लगवा दी और पिता द्वारा दी गई एक करोड़ रुपए की डीडी मकान बिकने से पहले ही अपने बैंक खाते में कैश करा ली। साथ ही मकान में रखी प्रिटिंग मशीन भी बेटी उठा कर ले गई।  इसके बाद वृद्ध ने हबीबगंज थाने में बेटी के खिलाफ शिकायत की थी। शिकायत जांच के बाद पुलिस ने भण्डारी की बेटी प्रतिभा भण्डारी के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का प्रकरण दर्ज कर लिया है। आरोपी महिला की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *