जालसाज बैंककर्मियों ने फर्जी एप्रूवल लैटर लगाकर बेंच दी 6 गाड़ियां

जालसाज बैंककर्मियों ने फर्जी एप्रूवल लैटर लगाकर बेंच दी 6 गाड़ियां
Share on social media
– सुजुकी शोरूम संचालक की शिकायत पर एमपी नगर में धोखाधड़ी दर्ज
mp03.in संवाददाता भोपाल 
 एमपी नगर में के एक शोरूम में पदस्थ निजी बैंक के दो एजेंटों ने लोगों के दस्तावेज पर अपने बैंक से लोन मंजूर होने का फर्जी अप्रूवल लेटर लगाकर 6 दोपहिया स्कूटर बेच दीं।  मामले का खुलासा होने के बाद शोरूम संचालक की शिकायत पर दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। एक आरोपी रेहान (रिहान) खान इसी तरह फर्जीवाड़ा करने के आरोप में इसी महीने गिरफ्तार किया गया है, फिलहाल वह जेल में है।
एमपी नगर पुलिस के अनुसार जितेश जोधवानी पिता रितेशलाल जोधवानी (31) एमपी में स्थित अपना सुजुकी शोरूम-जोन-2, एमपी नगर के संचालक हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि उनके शोरूम में आईडीएफसी बैंक के दो एजेंट वाहन फाइनेंस करने के लिए बैंक द्वारा तैनात किए गए थे। बैंक के एजेंट रेहान उर्फ रिहान खान और विवेक श्रीवास्तव ने सितंबर 2019 से अक्टूबर 2020 के मध्य छह दो पहिया सुजुकी स्कूटर उन ग्राहकों के दस्तावेज के आधार पर शोरूम से ले गए, जो शोरूम में वाहन देखने आते थे।
ऐसे करते थे फर्जीवाड़ा
पुलिस के अनुसार दोनाें जालसाज एजेंट शोरूम आने वाले ग्राहकों से दस्तावेज लेकर कहते कि लोन की प्रोसेस हो रही है। इसी बीच बैंक में दस्तावेज जमा नहीं करते और बैंक से शाेरूम को आने वाले लोन के एपू्रवल लेटर फर्जी बनाकर शोरूम में जमा कर देते थे। चूंकि शोरूम पहले कई गाडिय़ां एप्रूवल लेटर पर वाहन ग्राहक को सौंप देता है, इसलिए इन मामलों में भी गाडिय़ां सौंप दी। छह में से पांच वाहन रेहान खान ले गया है और एक विवेक श्रीवास्तव ने। कुछ माह पहले शोरूम संचालक ने जब उक्त छह वाहन के लोन के एपू्रवल लेटर आईडीएफसी बैंक के कार्यालय भेजे और शोरूम को भुगतान करने को कहा तो आईडीएफसी बैंक के अधिकारियों ने एप्रूवल लेटर फर्जी बताया। मामले का खुलासा होते ही दोनों एजेंट्स ने नौकरी छोड़ दी। इसी बीच रेहान ने किसी अन्य स्थान पर फर्जीवाड़ा किया था, जिसमें इसी जुलाई माह में एमपी नगर पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है। पुलिस अब यह पता लगा रही है कि जिन लोगों के दस्तावेज लगाकर वाहन उठाए गए हैं, वे भी फर्जीवाड़े में शामिल हैं या नहीं। अगर वे भी फर्जीवाड़े में शामिल होंगे तो उन्हें भी आरोपी बनाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *