नौकरी का झांसा देकर आधा दर्जन बेरोजगार युवकों से ठगी

नौकरी का झांसा देकर आधा दर्जन बेरोजगार युवकों से ठगी
Share on social media
mp03.in संवाददाता भोपाल
 निशातपुरा इलाके में नौकरी दिलाने का झांसा देकर  करीब आधा दर्जन बेरोजगार युवकों से जालसाजों ने 25-25 हजार ठग लिए। पीड़ितों की शिकायत पर निशातपुरा पुलिस ने जालसाजों पर एफआईआर दर्ज कर ली है।  दोनों जालसाजों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपियों में शामिल एक युवक पूर्व में एक निजी सिक्युरिटी कंपनी में सुपरवाइजर रह चुका है। पुलिस को पूछताछ में अन्य ठगी के खुलासे होने की उम्मीद है।
पुलिस के अनुसार ईश्वर नगर निवासी  श्रीकांत उर्फ शिवा तोमर पिता बाबूलाल तोमर (29) बेरोजगार है। पूर्व में वह एक निजी सिक्युरिटी कंपनी में बतौर गार्ड काम कर चुका है। उसी कंपनी में आरोपी राजाराम सुपरवाइजर था। दोनों के बीच पुराना परिचय था। लॉक डाउन के दौरान फरियादी की नौकरी चली गई। जिसके बाद से ही वह बेरोजगार चल रहा था। बीते दिनों उसकी मुलाकात राजाराम से हुई। आरोपी ने झांसा दिया कि उसने एक कंसल्टेंसी खोली है। जिसमें गार्ड्स की भर्तियों की जाती है। जहां सैलेरी भी 20 हजार रूपए करीब दी जा रही है। झांसे में आकर श्रीकांत ने निशातपुरा स्थित राजाराम व उसके साथी कन्हैयालाल के दफ्तर जाकर एक फार्म भरा। जिसके बाद में नौकरी लगवाने के एवज में उससे 25 हजार रूपए लिए गए। इसी प्रकार पांच अन्य बेरोजगारों से भी 25-25 हजार रूपए इन जालसाजों को दे दिए। सभी को तत्काल एक्ता सिक्युरिटी कंपनी में ज्वाइनिंग का झांसा दिया गया था। तीन दिन बीत जाने के बाद भी किसी को वहां ज्वाइन नहीं कराया गया। तब श्रीकांत ने एक्ता कंपनी में पता किया तो जानकारी मिली कि कंपनी ने किसी तरह की वैकेंसी और ज्वाइनिंग का एग्रीमेंट नहीं किया है। श्रीकांत व अन्य युवकों ने थाने में शिकायती आवेदन देकर शिकायत की। चार दिन की जांच के बाद बीती रात पुलिस ने धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *