मध्यप्रदेश में पहली बार अब परिवारिक मामलों का समाधान “ऑनलाइन”

मध्यप्रदेश में पहली बार अब परिवारिक मामलों का समाधान “ऑनलाइन”
Share on social media
mp03.in संवाददाता भोपाल 
“समा (SAMA)”  संस्था के तकनीकी सहयोग से मध्य प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण और मध्य प्रदेश पुलिस एक पायलट प्रोजेक्ट का संचालन होगा। जिसमें पुलिस की ऊर्जा डेस्क (महिला हेल्प डेस्क) के द्वारा प्राप्त मामलों को ऑनलाइन मध्यस्था के द्वारा सुलझाया जाएगा।  यह प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन होगी जिससे दोनों पक्षों को घर रहते हुए सुनवाई में शामिल होने की सुविधा रहेगी। यह भारत में इस तरह की पहली पहल है और यह जनता के लिए न्याय तक पहुंच से सुधार करने में काफी मदद करेगी इस परियोजना को शुरू करने के लिए भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर कुल 3 जिलों की पहचान की गई है।
भारत में यह पहली ऐसी पहले जहां आम जनता को अपने विवादों को पूरी तरह से ऑनलाइन हल करने का अवसर मिलेगा मध्य प्रदेश सभी भारतीय नागरिकों के लिए न्याय तक पहुंच में सुधार के लिए अन्य राज्यों के के लिए एक उदाहरण स्थापित कर सकता है।
ट्रेनिंग सेशन किया आयोजित 
वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में आज दिनांक 13 जुलाई 2021 को मध्य प्रदेश सिविल विधिक सेवा प्राधिकरण और पुलिस मुख्यालय भोपाल द्वारा जिला भोपाल कंट्रोल रूम में प्रातः 11:00 एक ट्रेनिंग सेशन का आयोजन किया गया, जिसमें महिला अपराध प्रकोष्ठ जिला भोपाल के सहयोग से विभिन्न थानों में संचालित महिला ऊर्जा हेल्प डेस्क संचालकों की ऑनलाइन कार्यशाला आयोजित की गई। जिसमें उप पुलिस अधीक्षक निधि सक्सेना महिला प्रकोष्ठ भोपाल एवं समस्त स्थानों के ऊर्जा हेल्प डेस्क संचालक व महिला प्रकोष्ठ स्टॉफ उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *