मेट्रोमोनियल साइट्स पर दोस्ती कर लाखों की ठगी करने वाले आरोपी का पर्दाफाश!

मेट्रोमोनियल साइट्स पर दोस्ती कर लाखों की ठगी करने वाले आरोपी का पर्दाफाश!
Share on social media
 मेट्रोमोनियल साईट शादी डॉट कॉम एवं जीवन साथी पर प्रोफाईल बनाकर शादी का झांसा देकर करते थे दोस्ती  ।
 दोस्ती करके गंभीर बीमारी होने एवं शादी की शॉपिंग आदि बहाने बनाकर मांगते थे रूपये ।
 आरोपी ने अपनी प्रोफाईल पर एचडीएफसी बैंक मे एचआर होना बताया ।
 लडकियो एव उनके परिवार  को बनाते थे अपना टारगेट ।

mp03.in संवाददाता भोपाल 

जीवन साथी डॉट कॉम/ शादी डॉट कॉम पर दोस्ती कर लाखो रूपये की ठगी करने के नाम पर  ठगी करने वाले आरोपी का भोपाल पुलिस की सायबर टीम ने पर्दाफाश किया है।
आरोपी को सायबर पुलिस ने गाजीयाबाद से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने शादी का झांसा देकर बीते 50 हजार रूपए की जालसाजी की थी।
सायबर क्राइम पुलिस के अनुसार  डीएन खरे की पत्नी सरिता खरे द्वारा मेट्रीमोनियल साईट पर अपनी बेटी के दूल्हे देखने के लिए प्रोफाईल बनाई थी। उन्हें अज्ञात मो.नं. से फोन करके स्वयं का नाम अभिषेक शर्मा बताया। उसने  शादी के बारे में बात की तथा अपने व्हॉटसएप से उनकी बेटी से से बात की एवं पूरे परिवार को भरोसे में लेकर शादी का झांसा दिया।  शादी की खरीददारी करने का बोलकर 35,000/-रूपये एवं 15,000/- रूपये कुल 50,000 रूपए उनकी बेटी से इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से अपने फ्रॉड खाता मे ट्रांसफर करवा लिये । जिसके संबंध में आवेदक द्वारा कार्यालय सायबर क्राईम भोपाल में आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया है । जिसकी आवेदन जांच व तकनीकी जानकारी के आधार पर आरोपी मोबाईल नंबर एवं खाता के उपयोगकर्ता के विरूद्ध अपराध धारा 420 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । जिसके बाद सायबर टीम ने गाजियाबाद से दीपक कुमार सिन्हा गाजियाबाद को गिरफ्तार किया। जोकि   12 वी पास है, और   रीयल स्टेट /प्रोपर्टी डीलर का काम करता है।
फर्जी प्रोफाइल बनाकर करता था ठगी । 
 आरोपी मेट्रोमोनियल साईट शादी डॉट कॉम/ जीवन साथी डॉट कॉम पर अपनी प्रोफाईल बनाकर एवं प्रोफाइल मे अच्छी सैलरी एवं अच्छा पद दिखा कर लडकियो से दोस्ती करता था, फिर लडकियो से शादी की बात करने के बहाने उन्हे भरोसे मे लेकर लडकी की फैमिली से मिलने की बात करता है, फिर इसी दौरान गंभीर बीमारी होने व चिकित्सा के लिये, शादी की खरीददारी एवं अन्य कार्य जैसे सूट खरीदना है आदि का बोलकर पैसो की मांग करता था एवं उक्त पैसा आरोपी द्वारा एटीएम/चैक द्वारा निकाल लिया जाता था।
तीन पासबुक और 10 एटीएम बरामद
सायबर क्राईम जिला भोपाल की टीम द्वारा अपराध कायमी के पश्चात तकनीकी एनालिसिस के आधार पर त्वरित कार्यवाही कर उ.प्र. गाजियाबाद से 01आरोपी को गिरफ्तार किया गया हैं । आरोपियों से प्रकरण में प्रयुक्त बैंक पासबुक 03 नग, बैंक चेकबुक 03 नग, एण्ड्रोईड मोबाईल फोन 02 नग एवं बैंक एटीएम कार्ड 10 नग को जप्त किया गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *