छह दिन बाद भी महिला डीएसपी द्वारा बदसलूकी के मामले की जांच ठंडे बस्ते में

छह दिन बाद भी महिला डीएसपी द्वारा बदसलूकी के मामले की जांच ठंडे बस्ते में
Share on social media
एमपीआरडीसी मैनेजर और उनके परिवार से  अभद्रता के मामले में अबतक जांच ठंडे बस्ते में 
mp03.in संवाददाता भोपाल
शिवाजी नगर में पांच दिन पहले आवारा कुत्ते के भौंकने पर घर आई स्कूटी सवार महिला के गिरने से नाराज होकर महिला डीएसपी द्वारा पड़ोस में रहने वाले एमपीआरडीसी मैनैजर और उनके परिवार से अभद्रता के बाद  वर्दी की धौंस जमाते हुए जबरिया पकड़कर थाने ले जाने के मामले में अबतक जांच ठंडे बस्ते में हैं। या यूं कहें कि हबीबगंज पुलिस महिला डीएसपी के खिलाफ जांच करने से कन्नी काट रही है। इस मामले में पुलिस अधीकारी लीपा-पोती करने में जुट गए हैं। अब तक डीएसपी अनीता प्रभा शर्मा के बयान दर्ज नहीं किए जा सके हैं। जबकि पीडि़त परिवार का कहना है कि रविवार को सीएसपी वीरेंद्र मिश्रा के कार्यालय में उनके व पत्नी और बेटी के कथन दर्ज किए जा चुके हैं। फरियादी एएखान ने बताया कि यदि पुलिस विभाग की ओर से डीएसपी के खिलाफ कार्रवाई नहीं तय की जाती है तो वह कोर्ट की शरण में जाएंगे। मालूम होकि  इस मामले की शिकायत डीआईजी से तीन दिन पहले की गई थी। डीआईजी ने मामले की जांच हबीबगंज सीएसपी वीरेंद्र मिश्रा को सौंपी थी। घटना से जुड़ा एक वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। जिसमें डीएसपी जबरिया पड़ोस में रहने वाले एमपीआरडीसी के मैनेजर को घसीटकर थाने ले जाने का दबाव पुलिस पर बनाती दिख रही थीं।
– यह है मामला
गत 27 अक्टूबर को शिवाजी नगर में रहने वाली बटालियन में पदस्थ डीएसपी अनीता प्रभा शर्मा के यहां आई एक महिला कर्मचारी आई। जिसे देख स्ट्रीट डॉग भौंकने लगा था, जिसके कारण वह स्कूटर लेकर गिर गई थी। इस बात को लेकर नाराज होकर डीएसपी शर्मा ने पड़ोस में रहने वाले एमपीआरडीसी मैनैजर एए खान के घर पहुंची। जिसके बाद महिला डीएसपी ने अपनी बटालियन से डॉग स्कवाड के जवानों को बुला लिया।  जिनके साथ पड़ोसी खान के घर में घूसकर परिवार वालों से अभद्रता की। बाद में जबरिया उन्हे थाने ले जाकर उनके खिलाफ केस दर्ज करवा दिया।
कोट्स
फरियादी पक्ष के बयान लिए गए हैं। फिलहाल महिला डीएसपी के बयान नहीं हो पाएं हैं। जल्द ही उन्हें बुलाकर बयान दर्ज कर जांच रिपोर्ट तैयार की जाएगी।
वीरेंद्र मिश्रा, सीएसपी हबीबगंज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *