अवैध कालोनियां बनाने वाले कॉलोनाइजर व डेव्लपर्स पर होगी एफआईआर

अवैध कालोनियां बनाने वाले कॉलोनाइजर व डेव्लपर्स पर होगी एफआईआर
Share on social media
– 96 अवैध कॉलोनी संचालकों पर दर्ज होगा मामला,
–  नगर निगम ने शुक्रवार को  20 डेवलपर पर दर्ज कराया है मामला
mp03.in संवाददाता भोपाल 
नगर निगम प्रशासन शुक्रवार को आधा दर्जन मामले दर्ज कराए हैं। एफआईआर में डेढ़ दर्जन से अधिक लोगों को आरोपी बनाया गया है, जो भोपाल नगर निगम की सीमा में अलग-अलग क्षेत्रों में विकसित हो रही थीं। दरअसल, नगर निगम सीमा और आसपास 96 ऐसी कॉलोनियां प्रशासन ने चिह्नित की हैं, जो बिना प्रशासन की अनुमति के विकसित की जा रही हैं। दो दिन पहले भोपाल संभागायुक्त कवीन्द्र कियावत ने भोपाल कलेक्टर और नगर निगम आयुक्त के साथ बैठक कर मामला दर्ज कराने के निर्देश दिए थे। जानकारी के अनुसार नगर निगम ने  पहला मामला बिलखिरिया में दर्ज कराया गया है, जिसमें धोखाधड़ी की धारा के तहत 292 सी, मप्र नगर पालिका अधिनियम के तहत दर्ज किया गया है। इस मामले में कॉलोनी विकसित करने वाले रामशरण प्रजापति ने खसरे में हेराफेरी कर बिना अनुमति प्लॉट काटकर कॉलोनी बना रहा था।
रातीबड़ में पांच अलग-अलग मामले दर्ज
इसी तरह जमीनों का तहसीलदार कार्यालय से बिना डायवर्सन कराए, नगर निगम और जिला प्रशासन से कॉलोनी निर्माण और प्लॉट विकसित कर उसे बेचने की अनुमति लिए बिना सीधे प्लॉट काटकर कॉलोनी विकिसित करने वाले प्रापर्टी डीलर और बिल्डर के खिलाफ मामला दर्ज किए गए गए हैं। रातीबड़ पुलिस के अनुसार ग्राम सेवनिया में कॉलोनी काटने वाले स्नेह प्रभा, इंदु प्रभा, शशि प्रभा, गंगाराम, अरविंद सिंह, रौनक सिंह, चारू सिंह,  उमा श्रीवास्तव, मुकेश गर्ग, उमेर अहमद और उमर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उक्त आरोपियों के खिलाफ अभी 292 सी, नगर पालिका अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। जांच में फर्जीवाड़ा सामने आने पर धोखाधड़ी की धारा लगाई जाएगी।
ज्ञात हो कि भोपाल नगर निगम में 96 कॉलोनी चिह्नित की गई हैं, जो अवैध हैं, इनमें से 20 के डेवलपर के खिलाफ मामला दर्ज हो चुका है। बाकी के खिलाफ जल्द ही मामला दर्ज होने की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *