ग्राम डोबरा छावनी में तब्दील, दोनों समाज के लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज

ग्राम डोबरा छावनी में तब्दील, दोनों समाज के लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 

थाना क्षेत्र स्थित ग्राम डोबरा में दो समाजो के बीच हुए विवाद हुई फायरिंग में एक युवक की मौत के बाद  इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। जिसमें युवक की मौत के बाद पाल समाज की एक महिला समेत कुल 18 के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज किया गया है। जबकि  मीना समाज के आठ लोगों सहित 26 लोगों के खिलाफ भी मारपीट का केस दर्ज किया है। इधर, गोली लगने से जान गंवाने वाले शुभम मीना का गुरुवार को अंतिम संस्कार हो गया। तनाव को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने गांव पहुंचकर दोनों पक्षों से बातचीत की और उन्हें शांति बनाए रखने के लिए कहा। गौरतलब है कि बुधवार रात गांव के तिराहे का नामकरण करने को लेकर मीना और पाल समाज के बीच खूनी संघर्ष हो गया था। जिसमें एक युवक शुभम की मौत हो गई थी। जबकि आधा दर्जन लोग घायल हो गए थे।

 

चौराहे के नामकरण को लेकर था विवाद 

राजा भोज एयरपोर्ट के आगे बायपास मार्ग से कुछ दूरी पर ग्राम डोबरा है। इस गांव में दस से पंद्रह परिवार पाल समाज और करीब बीस परिवार मीना समाज के हैं। बायपास मार्ग तक जाने वाले गांव के रास्ते को फिलहाल डोबरा तिराहे के नाम से जाना जाता है। पाल समाज के लोग इसका नाम पाल चौराहा करना चाता था। जबकि मीना समाज इसे डोबरा तिराहा चाहते हैं। इसको लेकर दोनों समाजों के बीच कई दिनों से तनातनी चल रही थी। मंगलवार को पाल समाज के लोगों ने अपना बोर्ड लगाया था। इसके बाद विवाद की स्थिति बनने पर मीना समाज ने पुलिस से शिकायत की थी। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाईश देकर मामला शांत करवा दिया था।

सचिव के भतीजे ने चलाई थी गोली 

खेजड़ा  पंचायत का सचिव निर्मल के भतीजे संजय ने शुभम पर गोली चलाई थी। बंदूक बरामद नहीं हुई है। झगड़े में मीना समाज के शुभम, करण, आनंद, रमेश और अजय गंभीर घायल हो गए। इनमें से शुभम की मौत हो गई। दूसरे पक्ष के निर्मल पाल और संजय पाल को भी गंभीर चोट आई है। पुलिस ने संतोष मीना (42) की रिपोर्ट पर दूसरे पक्ष की एक महिला समेत 18 लोगों के खिलाफ बलवा, हत्या का प्रयास समेत विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया था, जिसमें हत्या की धारा बढ़ा दी गई है। वहीं दूसरे पक्ष के निर्मल पाल (34) की रिपोर्ट पर मीना समाज के आठ लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।आरोपी बद्रीप्रसाद पाल, नरेश पाल, राजेश पाल, नर्मदा पाल, शुभम पाल तथा निर्मल पाल को गिरतार कर लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *