फर्जी टिकट लगाकर भत्ता लेने वाले यूनानी डाक्टर पर मामला दर्ज

फर्जी टिकट लगाकर भत्ता लेने वाले यूनानी डाक्टर पर मामला दर्ज
Share on social media
– बुरहानपुर के निजी यूनानी कॉलेज में पदस्थ हैं आरोपी चिकित्सक
mp03.in संवाददाता भोपाल
2014 में बुरहानपुर स्थित निजी यूनानी चिकित्सा महाविद्यालय में पदस्थ एक प्रोफेसर द्वारा फर्जी टिकट लगाकर ढाई हजार रुपए का टीए लेने के मामले में पुलिस ने जालसाजी का मामला दर्ज किया है। मामला आरोपी चिकित्सक के साथी की  शिकायत के बाद चूनाभट्टी पुलिस ने दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
चूनाभट्टी पुलिस के अनुसार  मूलत: बुरहानपुर निवासी ब्रजमोहन गुप्ता 2014 में बुरहानपुर स्थित सैफिया हमीदिया यूनानी तिब्बतिया कॉलेज ऑफ यूनानी एण्ड हॉस्टिपटल में बतौर प्रोफेसर कार्यरत थे। वर्ष 2014 में वे चूनाभट्टी थाना क्षेत्र स्थित शासकीय खुशीलाल शर्मा आयुर्वेदिक चिकित्सा महाविद्यालय परिसर में संचालित शासकीय यूनानी चिकित्सा महाविद्यालय में बतौर पर्यवेक्षक बनकर आए थे। ब्रजमोहन गुप्ता ने आने-जाने का ट्रेन का एसी का टिकट लगाकर करीब ढाई हजार रुपए का टीए लिया था। यूनानी कॉलेज के एप्रूवल के बाद बरकतउल्ला विवि ने टीए मंजूर किया था। जब इस बात की भनम डॉ. सूर्यकांत उर्फ आनंद दीक्षित को लगी तो उन्होंने आरटीआई के माध्यम से दस्तावेज निकलवाए। डॉ. दीक्षित ने दस्तावेजों के आधार पर बुरहानपुर में फर्जी ट्रेन टिकट के आधार पर टीए लेने की 2019 में लिखित शिकायत की थी। 2017 में उक्त मामले की जांच बुरहानपुर से यह कहकर बागसेवनिया थाने भेज दी कि बरकतउल्ला से बिल पास हुआ है, जो बागसेवनिया थाना क्षेत्र में आता है। काफी समय तक शिकायत  की जांच बागसेवनिया थाने में चलती रही। इसके बाद मामला भोपाल पुलिस के आला अधिकारियों की संज्ञान में आया। इसके बाद निर्णय लिया गया कि चूंकि आरोपी ने यूनानी कॉलेज आया था और यहां अपना फर्जी टिकट लगाया था। यहीं से उसका टीए पास करने का एप्रूवल कर बरकतउल्ला विवि भेजा गया था। इसलिए मामला चूनाभट्टी थाने में दर्ज किया जाए। इसके बाद कल ब्रजमोहन गुप्ता के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया गया। पुलिस अब आरोपी की तलाश में बुरहानपुर जाने की तैयारी में है।
जिलाबदर बदमाश को पुलिस ने दबोचा 
 निशातपुरा पुलिस ने सोमवार देर रात एक जिलाबदर निगरानी बदमाश को वारदात की फिराक में घूमने हुए दबोच लिया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी युवक के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक रमजानी थाने का निगरानीशुदा बदमाश है, और उसके खिलाफ दर्जनों अपराध दर्ज हैं। कुछ समय पहले ही उसे प्रशासन ने जिला बदर घोषित किया था। इसी बीच रात में मुखबिर से सूचना मिली कि रमजानी नवाब कॉलोनी में घूम रहा है। सूचना मिलते ही पुलिस ने घेराबंदी कर उसे दबोच लिया। पुलिस पूछताछ में आरोपी युवक ने बताया कि वह जिला बदर के बाद से भोपाल में ही रहता रहा था। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *