चाैरसिया हत्याकांड के फरार विधायक पति पर 50 हजार का ईनाम, सूत्र एसटीएफ ने जम्मू-कश्मीर से लिया हिरासत में!

चाैरसिया हत्याकांड के फरार विधायक पति पर 50 हजार का ईनाम, सूत्र एसटीएफ ने जम्मू-कश्मीर से लिया हिरासत में!
Share on social media
  • हत्याकांड के मामले में फरार बसपा विधायक के फरार आरोपी पति पर  पचास हजार का ईनाम!
  • 30 हजार से बढ़ाकर गुरूवार को डीजीपी ने किया 50 हजार का ईनाम घोषित 
  • एसटीएफ जम्मू कश्मिर से हिरासत में लिए जाने की सूचना 

mp03.in संवाददाता भोपाल/दमोह

थाना हटा जिला दमोह में हत्याकांड के मामले में फरार बसपा विधायक के पति आरोपी गोविंद सिंह पिता रब्‍बी सिंह को गिरफ्तार कराने वाले या उसकी सूचना देने वाले को 50 हजार रूपए का ईनाम दिया गया है।  पुरस्‍कार के संबंध में डीजीपी का निर्णय अंतिम होगा। जबकि मध्य प्रदेश पुलिस ने हत्या के इस मामले में फरार BSP विधायक रामबाई के पति की गिरफ्तारी में मददगार होने वाली सूचना देने पर 30 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। इधर, गोविंद सिंह को एसटीएफ द्वारा जम्मू-कश्मिर से हिरासत में लिए जाने की सूचना है। हालांकि इसी कोई अधिकारी पृष्टि नहीं की जा रही है।

वर्ष 2019 में हुई कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया की हत्या के मामले में गोविंद सिंह आरोपी हैं

चौरसिया की मार्च 2019 में कांग्रेस के शामिल होने के बाद दमोह जिले के हटा शहर में हत्या कर दी गई थी. पुलिस ने इस मामले में गोविंद सिंह और अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था।    उल्‍लेखनीय है कि आरोपी गोविंद सिंह पिता रब्‍बी सिंह को माननीय द्वितीय अपर जिला एवं सत्र न्‍यायाधीश हटा जिला दमोह द्वारा प्रकरण क्रमांक 30/2019 में 8 जनवरी 2021 को हत्‍या के प्रकरण में शामिल कर गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है।

न्यायालय के बयान के बाद आई तेजी 

रामबाई सिंह प्रदेश के दमोह जिले की पथरिया विधानसभा क्षेत्र से बीएसपी की विधायक हैं और गोविंद सिंह उनके पति हैं। गौरतलब है कि शीर्ष अदालत ने गत शुक्रवार को कहा था कि इस मामले के तथ्य बताते हैं कि 15 मार्च 2019 को प्राथमिकी दर्ज होने के बावजूद जांच अधिकारियों ने उसकी गिरफ्तारी के लिए कोई कदम नहीं उठाया. प्राथमिकी में चौरसिया के बेटे सोमेश ने आरोप लगाया था कि गोविंद सिंह उनके पिता की हत्या में लिप्त हैं। सुप्रीम कोर्ट द्वारा मामले को गंभीरता से लेने के बाद प्रदेश पुलिस ने सिंह को पकड़ने के प्रयास तेज कर दिये हैं।  सुप्रीम कोर्ट ने पिछले सप्ताह बीएसपी विधायक के पति को गिरफ्तार करने में पुलिस के असफल रहने पर गंभीर टिप्पणी की थी और प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को आरोपी को तत्काल गिरफ्तार करने का निर्देश दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *