कार्लगर्ल को तमाचा मारने पर कुख्यात बदमाश शादाब उर्फ जहरीला की नृशंस हत्या!

कार्लगर्ल को तमाचा मारने पर कुख्यात बदमाश शादाब उर्फ जहरीला की नृशंस हत्या!
Share on social media
  • रविवार-सोमवार की रात एक कार सवार को भी शादाब ने  किया था लूटने का प्रयास
  • शादाब की हत्या के तीन घंटे पहले हत्यारे नदीम बच्चा और उसके साथी ने एक युवक पर किया था हत्या का प्रयास
  • मृतक बदमाश शदाब जहरीले का 24 फरवरी से बरसों पुराना रिश्ता

mp03.in संवाददाता भोपाल 

गौतम नगर इलाके में कार्लगर्ल को लेकर बदमाश ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर नए शहर के कुख्यात बदमाश शादाब उर्फ जहरीले की धारदार हथियार से चाकूओं से गोदने के बाद गलारेंत कर हत्या कर दी। दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, जबकि तीसरे की तलाश की जा रही है।

जानकारी के अनुसार बाणगंगा निवासी शादाब उर्फ जहरीला पर हत्या समेत तीन दर्जन से ज्यादा गंभीर अपराध दर्ज हैं।बुधवार रात शादाब जहरीले ने अपने बदमाश साथियों नदीम उर्फ बच्चा, फैजान और शान के साथ  बैठकर जमकर शराब पी। रात 12 बजे करीब चारों गौतम नगर इलाके में पहुंचे, जहां किसी बात पर शादाब ने नदीम को तमाचा मार दिया। इसी बीच नदीम और उसके साथियों ने शराब के नशे में धुत शादाब पर चाकूओं से हमला बोल दिया। चाकूओं से गोदने के बाद नदीम ने शदाब का गला रेंत डाला। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए, शादाब को अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने चेक करने के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने नदीम, फैजान और शान के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने बुधवार रात नदीम और गुरुवार को फैजान को गिरफ्तार कर लिया। जबकि शान फरार बताया जा रहा है।

कार्लगर्ल को तमाचा मारने के विवाद पर हत्या 

सूत्रों की मानें तो कटसी इलाके में छोटी (परिवर्तित नाम) देहव्यापार का धंधा करती है। जोकि नदीम बच्चा और शदाब दोनों के ही संपर्क में थी। छोटी को साथ ले जाने को लेकर शादाब और नदीम में पूर्व में अनबन हो गई थी, नदीम के साथ जाने पर शादाब ने छोटी के साथ मारपीट कर दी थी। जिसके बाद नदीम शदाब से खून्नस रखने लगा था।

मुखबिरी के संदेह पर तमाचा

वारदात की रात शराब पीते समय नदीम के मोबाइल पर लगातार फोन आ रहे थे, जिसको लेकर शादाब को शक हुआ कि कहीं उसकी मुखिबरी तो नहीं की जा रही। उसने नदीम को तमाचा मार दिया, जिसके बाद गुस्साए नदीम और उसके साथियों ने उसपर चाकूओं से हमला बोल दिया।

हत्या के तीन घंटे पहले हत्या का प्रयास करके आए थे 

शादाब की हत्या के पहले नदीम और उसका साथी फैजान टीलाजमालपुरा इलाके में स्पर्श सोनी नामक  पर धारदार हथियार से जानलेवा हमला करके आए थे। स्पर्श सोनी के खिलाफ भी लूट समेत कई अपराध दर्ज हैं। हमले का कारण पुरानी रंजिश बताई जा रही है।

मुकेश यादव की हत्या में शामिल था शादाब 

करीब दस साल पहले शिवाजी नगर में मुकेश यादव की शादाब जहरीले ने अपने साथी आसिफ के साथ मिलकर गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में आसिफ को आजीवन सजा पड़ गई थी। जबकि शदाब समेत आधा दज्रन आरोपी बरी हो गए थे।

24 फरवरी का अजब संयोग 

इसे अजब संयोग कहा जाता सकता है कि जिस बदमाश शादाब की हत्या 24 फरवरी की रात को हुई, उसका इस तारीख से पुराना नाता है। शादाब को जानने वालें बताते हैं कि  शादाब ने अपने साथियों के साथ मिलकर 2009 में 24 फरवरी को मुकेश यादव की हत्या की थी। करीब सालभर फरार रहने के बाद 24 फरवरी को ही वह गिरफ्तार और एक साल बाद इसी तारीख को ही बरी हुआ था। अतं में उसकी मौत की तारीख भी 24 फरवरी ही मुकरर थी।

डेढ़ माह पूर्व ही जेल से छूटकर आया था शादाब

करीब तीन महीने पहले बदमाश शदाब ने हबीबगंज इलाके में शप्पू शुटर नामक बदमाश से मारपीट कर अड़ीबाजी की थी। इसी मामले में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। करीब महीने भर पहले ही शादाब जेल से जमानत पर छूटकर आया था।

रविवार-सोमवार की रात किया था लूट का प्रयास 

गत रविवार-सोमवार की रात शादाब ने अपने साथियों के साथ मिलकर माता मंदिर इलाके में लूट की नीयत से एक कार सवार को रोका था। हालांकि लूटपाट में विफल होने के बाद आरोपी मारपीट कर फरार हो गए थे। इस मामले में टीटी नगर पुलिस ने शादाब के खिलाफ नामजद अपराध दर्ज किया था, जिसमें वह फरार चल रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *