दो समाजों में खूनी संघर्ष@ एक युवक की मौत, आधा दर्जन घायल

दो समाजों में खूनी संघर्ष@ एक युवक की मौत, आधा दर्जन घायल
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल

ईटखेड़ी के ग्राम डोबरा स्थित एक चौराहे के नामकरण को लेकर दो समाजों के बीच बुधवार रात खूनी संघर्ष हो गया। इस दौरान एक पक्ष ने बंदूक से फायर कर दिया, जिसमें दूसरे समाज के युवक की मौत हो गई।जबकि आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हुए हैं। सभी को अस्पतालों में भर्ती किया गया। इधर, पुलिस ने संतोष मीणा की शिकायत पर संजय पाल, निर्मल पाल, प्रदीप, नरेश, शुभम, सुरेश, जनक सिंह, बद्री प्रसाद, स्वप्नेश, निर्भय सिंह, मल्लू सौदान सिंह, राजेश, नर्मदा प्रसाद, लखन, विनोद, सोहनलाल और बंतीबाई पर हत्या के प्रयास, मारपीट, गाली-गलौज, जान से मारने की धमकी और बलवा समेत 6 से ज्यादा धाराओं में एफआईआर की है।  हमला करने वाले आधा दर्जन आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है। अन्य की तलाश की जा रही है। सुरक्षा के लिहाज से गांव में भारी पुलिस बल की तैनाती रखी गई है। फरार आरोपियों की तलाश में पुलिस की आधा दर्जन से अधिक टीमें संभावित ठिकानों पर दबिश देने का काम कर रही हैं। वहीं मीणा समाज के लोगों ने घटना के बाद में पुलिस पर बदसलूकी के आरोप लगाए हैं।
पुलिस के अनुसार  24 वर्षीय शिवम मीणा ग्राम डोबरा में किराना की दुकान चलाता है और वहीं रहता है। उसके रिश्तेदार राहुल मीणा ने बताया कि गांव में किसानी करने वाले प्रदीप पाल का परिवार रहता है। शिवम और प्रदीप में अच्छी दोस्ती थी। लेकिन गांव में हालही में बने एक चौराहे के नामकरण को लेकर दोनों में मनमुटाव हो गया था। बात बड़ों तक पहुंची और प्रतिष्ठा का सवाल बन गई। पाल समाज के लोग चौराहा का नाम अपने समाज के नाम से रखना चाहते थे। जबकि मीणा समाज के लोग इसे डोबरा चौराहा नाम देना चाहते थे। इसी बात को लेकर दोनों समाजों के बीच में ठन गई। पहले मंगलवार को दोनों पक्षों के बीच मामूली विवाद हुआ था। जिसकी शिकायत मीणा समाज के लोगों ने थाना ईटखेड़ी में की थी। बुधवार को शिवम दुकान पर था इसी बीच प्रदीप पाल वहां पहुंचा और बहसबाजी शुरु कर दी। लोगों ने समझाइश देकर उसे रवाना कर दिया कुछ देर बाद प्रदीप अपने भाई  संजय पाल और निर्मल पाल व अन्य एक दर्जन से अधिक लोगों को लेकर शिवम की दुकान पहुुंचा और हमला कर दिया। आरोपियों के पास में बारह बोर की बंदूकें थीं। बदमाशों ने आते ही ताबड़तोड़ कई राउंड फायर किए। जिससे एक गोली शिवम को लगी और उसकी मौत हो गई। जबकि सात राउंड फायरिंग के बाद में रमेश मीणा,कोमल मीणा,अजय मीणा,करण मीणा,आनंद मीणा,आकाश मीणा व अन्य छर्रे लगने से घायल हुए हैं। पुलिस ने संतोष मीणा की शिकायत पर संजय पाल,निर्मल,प्रदीप,नरेश,शुभम,सरेश,झनक सिंह,बद्री प्रसाद,स्वपनेश,निर्भय के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

इलाके में तनाव, तीन थानों की पुलिस तैनात

सूचना मिलते ही ईंटखेड़ी, बैरसिया और गांधीनगर थाना क्षेत्र की पुलिस मौके पर पहुंच गई। देर रात तक पुलिस घायलों को अस्पताल पहुंचाती रही। पुलिस कंट्रोल रूम से भी अतिरिक्त बल भेजा गया। शुभम का शव पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल पहुंचाया गया। पुलिस ने तड़के करीब 4 बजे मामले में एफआईआर की और आरोपियों की धरपकड़ शुरू कर दी। मौके पर पुलिसबल तैनात किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *