घर के सामने का रास्ता इस्तेमाल करने के विवाद पर दो समाजों खूनी संघर्ष, आधा दर्जन घायल

घर के सामने का रास्ता इस्तेमाल करने के विवाद पर दो समाजों खूनी संघर्ष, आधा दर्जन घायल
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 

खेत से होकर गुजरने के विवाद में दो समाजों के बीच रविवार दोपहर जमकर खूनी संघर्ष हुआ। आरोपी पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष के आधा दर्जन लोगाें पर धारदार हथियारों से हमला कर  गंभीर रूप से घायल कर दिया।  घायलों में एक किसान की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। मामले में पुलिस ने हत्या का प्रयास, बलवा सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर लिया है। पुलिस ने आरोपी  समाज के आधा दर्जन लोगों को हिरासत में ले रखा है। अन्य आरोपी अपने घरों से फरार हो गए हैं। वहीं तानाव के हालातों को देखते हुए गांव में भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है। फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।

बैरसिया पुलिस के अनुसार ग्राम मूड़ला निवासी रामबाबू मीणा पुत्र रुप सिंह मीना (31)  रविवार दोपहर को अपने भाई संतोष के साथ खेत पर काम करने के लिए निकले थे। रास्ते में उसे मुंशीलाल गुर्जर व उसके दो साथी मिले। उन्होने कहा की वह उनके घर के सामने बनें रास्ते से नहीं जा सकते। उन्होने भविष्य में उनके घर के सामने न निकलने की घमकी दी। संतोष ने रास्ता सरकारी होने का हवाला दिया तो आरोपियों ने दोनों भाईयों को बेरहमी से धुन दिया। दोनों घायल हालत में गांव पहुंचे और कुछ लोगों को गुर्जर समाज के जिम्मेदारों से बात करने का कहकर घटना स्थल ले गए। जहां गुर्जर समाज के करीब दो दर्जन लोगों ने फिर से मीना समाज के लोगों पर हमला कर दिया। इस हमले में 45 वर्षीय नवल सिंह को सिर में फर्सा लगने से गंभीर चोट आई है। डंडे लोहांगी से अचानक हुए हमले में मीना समाज के संतोष,रामबाबू,नवल के बेटे अरुण सहित गांव के मोहन और रूप सिंह को भी गंभीर चोट आई हैं। सभी घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। जहां नवल की हालत चिंता जनक बनी हुई है। वहीं पुलिस का कहना है कि गुर्जर समाज के कुछ लोगों को पथ्राव के कारण चोटे आई हैं। हालांकि सोमवार सुबह तक रिपोर्ट दर्ज कराने कोई नहीं आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *