मां-बाप के साथ सो रहे 9 साल के मासूम के अपहरण की कोशिश!

मां-बाप के साथ सो रहे 9 साल के मासूम के अपहरण की कोशिश!
Share on social media
– परिजनों के शोर मचाने पर छत से कूदकर भागा आरोपी
mp03.in संवाददाता भोपाल
बैरसिया थाना क्षेत्र के एक गांव में माता-पिता के साथ सोते हुए नौ साल के बच्चे के अपहरण करने की नाकाम कोशिश की गई। शुक्र है कि परिजनों की नींद खुल गई और आरोपी उसे छत पर छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरु कर दी है।
बैरसिया थाना पुलिस के अनुसार ग्राम सोहाया निवासी नसीब खान खेती-किसानी करता है। उनका  नौ साल का बैटा उजेर है। रविवार रात खाना खाकर उजेर अपनी मां के साथ सोने चला गया। पिता नसीब खान भी पास में ही सो रहे थे। रात दो बजे नसीब की पत्नी की नींद खुली तो बच्चा उसके बिस्तर पर नहीं था। पति के बिस्तर में देखा तो उजेर वहां भी नहीं मिला। इसके बाद मां तेज आवाज में अपने बेटे को पुकारने लगी। नसीब ने पत्नी से कहा कि तुम घर का दरवाजा खोलकर बाहर की तरफ देखो, मैं छत पर जाकर देखता हूं। नसीब जैसे ही सीढिय़ों के सहारे अपने मकान की छत पर पहुंचता है, तभी धम से किसी के नीचे कूदने की आवाज आई। नसीब ने छत पर टार्च की रोशनी से तलाश तो उसका बेटा उजेर छत में एक किनारे पर मिला। इसके बाद नसीब ने छत से घर के आसपास देखा, लेकिन कोई दिखा नहीं।
मुंह पर पन्नी बांधकर ले गया
नसीब को जब उसका बेटा छत पर मिला तो उसके मुंह पर मोटी पन्नी बंधी हुई थी। वह बहुत घबराया हुआ था। पूछताछ में मासूम ने बताया कि जो व्यक्ति उसे उठाकर छत पर लाया, उसे पहले कभी नहीं देखा था, लेकिन देखेगा तो पहचान लेगा। मासूम की नींद छत पर आने के बाद खुली। इधर परिजन किसी से विवाद होने से इंकार कर रहे हैं। पुलिस माता-पिता से अलग-अलग भी पूछताछ कर बदमाश के संबंध में जानकारी जुटाना शुरू कर दिया है। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका कि जब घर का मेन दरवाजा बंद था, तो आरोपी घर के अंदर घुसा कैसे। फरियादी की छत से किसी अन्य की छत भी जुड़ी नहीं है, ऐसे में मासूम को लेकर बदमाश कैसे कूदता। परिजन अगर समय नहीं नहीं जगते तो अपहरणकर्ता मासूम के साथ क्या करता, पुलिस इन सभी बिंदुओं पर जांच में जुट गई है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *