थाने के सहकर्मी पर बदसलूकी का आरोप लगाने वाले एएसआई ने तालाब में कूदकर की आत्महत्या की काेशिश!

थाने के सहकर्मी पर बदसलूकी का आरोप लगाने वाले एएसआई ने तालाब में कूदकर की आत्महत्या की काेशिश!
Share on social media
– सूत्रों की मानें तो तालाब में कूदकर आत्महत्या का प्रयास करने वाला एएसआई जानता है तैरना !
mp03.in संवाददाता भोपाल 
राजधानी के श्यामलाहिल्स थाने में पदस्थ एक एएसआई (सहायक उपनिरीक्षक) अपने सहकर्मी से हुए विवाद के चलते मंगलवार रात वीआईपी रोड से बडे़ तालाब में कूद गया। हालांकि  तालाब में नगर निगम के गोताखोर नौका से गश्त कर रहे थे, ऐसे में एएसआई को तत्काल पानी से बाहर निकाल लिया गया। एएसआई को पीरगेट के मालीपुरा स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। जोकि अब पूरी तरह स्वस्थ है।
पुलिस सूत्रों के अनुसार मंगलवार रात लगभग 12 बजे नगर निगम के गोताखोर इमरान, आमिर, अर्सलान और आसिफ बशीर तालाब में वीआइपी रोड के आसपास नौका से गश्त कर रहे थे। इसी दौरान उन्हें वीआईपी रोड से अचानक एक व्यक्ति  तालाब में कूदता दिखा। घटना देख रहे वीआइपी रोड पर मौजूद लोगों ने शोर मचाया। शोर-शराबा सुनकर गोताखोर तत्काल हरकत में आ गए। तालाब में कूदकर गोताखोरों ने गहरे पानी में पहुंच चुके  व्यक्ति को बाहर निकाल लिया। जिसकी पहचान श्यामला हिल्स थाने में पदस्थ एएसआई शिवेंद्र मिश्रा के रूप में हुई। मौके पर मौजूद डायल-100 के गश्ती वाहन से एएसआइ को पीरगेट स्थित एक निजी अस्पताल में पहुंचाया।
सहकर्मी से विवाद के चलते उठाया कदम 
सूत्रों की मानें तो एएसआई शिवेंद्र मिश्रा ने थाना प्रभारी को शिकायत की थी उनके एक वरिष्ठ सहकर्मी ने उनके साथ लोगों के सामने बदलसूकी, जिससे उनकी प्रतिष्ठा खराब हुई है। थाना प्रभारी ने मंगलवार रात दोनों पुलिसकर्मियों को तलब कर आमना-सामना कराया, हालांकि एएसआई द्वारा लगाए गए आरोप की पुष्टि नहीं हुई। जिसके बाद गुस्से में एएसआई थाने से रवाना हो गया।
 एएसआई को आता है तैरना 
सूत्रों की मानें तो एएसआई शिवेंद्र मिश्रा को तैरना आता है। थाने से रवाना होने के बाद वह वीआईपी रोड पहुंचा, जहां उसने वर्दी, जूते, और घड़ी उतारकर अपनी गाड़ी में रखी, जिसके बाद वह बनियान पहन कर तालाब में कूद गए। अब सवाल उठता है कि तैरना जानने वाला व्यक्ति कैसे पानी में कूदकर आत्महत्या कर सकता है।
मौके से गुजर रहे थे डीआईजी 
घटना के वक्त  डीआइजी इरशाद वली वीआइपी रोड से गुजर रहे थे। उन्होंने गोताखोरों द्वारा किए गए सराहनीय काम की सराहना की। साथ ही  अस्पताल पहुंचकर डॉक्टरों से एएसआइ के स्वास्थ्य की जानकारी ली।
एडिशनल एसपी व सीएसपी करेंगे जांच 
मामले की जांच के लिए एएसपी जोन-3 औऱ सीएसपी शाहजहानाबाद के साथ दो सदस्यीय पुलिस की जांच कमेटी गठित की गई है। जोकि मामले से जुडे़ सभी बिंदुओं की जांच के साथ विवाद से जुडे़ लोगों के बयान दर्ज करेंगे। जिसकी जांच रिपोर्ट एसपी नार्थ व डीआईजी को भेजी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *