शादी से इंकार करने पर गुस्साए एसएएफ जवान ने ससुराल में घुसकर साले और सास को गोली मारी, साले की मौत

शादी से इंकार करने पर गुस्साए एसएएफ जवान ने ससुराल में घुसकर साले और सास को गोली मारी, साले की मौत
Share on social media
mp03.in संवाददाता भोपाल 
शाहपुरा इलाके में शादी टूट जाने से नाराज होकर एसएफए के जवान ने मंगेतर के घर जाकर उसके भाई और मां को गोली मार दी। गोली लगने से मंगेतर युवती के भाई की मौत हो गई। जबकि उसकी मां का इलाज अस्पताल में चल रहा है। तत्काल प्रभाव से आरोपी एसएएफ जवान को निलंबित कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने आरोपी एसएएफ जवान के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है। पुलिस के अनुसार शाहपुरा  निवासी जगत सिंह धाकड़ वन विभाग में ड्रायवर हैं। उनके परिवार में पत्नी, दो बेटियां और दो बेटे हैं। पहली बेटी की शादी हो चुकी है। जबकि दूसरी बेटी की शादी हालही में एसएएफ की सातवीं वाहिनी  में पदस्थ जवान अजीत सिंह चौहान से तय हुई थी। अक्टूबर ने दोनों की सगाई की थी, और मई में उनकी शादी होने वाली थी। हालांकि अजीत की मानसिक रोगियों जैसी हरकतों को देखते हुए परिवार ने रिश्ता तोड़ने का फैसला कर लिया था। इसी बात पर गुस्साया अजीत मंगलवार देर रात मंगेतर के घर पहुंच गया, जोकि अपनी सर्विस इंसास रायफल भी साथ लाया था। जहां मंगेतर से शादी तोड़ने को लेकर बहस हो गई, इसी बीच अजीत ने उसपर रायफल तान दी। बहन के लिए बीच बचाव में आए रितेश और उसकी मां जानकी बाई पर अजीत ने रायफल से गोलियां चला दी। रितेश की मौके हो गई, जबकि जानकी बाई को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।
पूरा कहानी पीड़िता की जुबानी….
युवती ने बताया कि रायसेन जिले का रहने वाले अजीत सिंह चौहान से अक्टूबर 2020 में उसकी सगाई हुई थी। वह सातवीं बटालियन में पदस्थ था। दोनों का यह रिश्ता परिवार की सहमति से तय हुआ था। 2 मई 2021 को दोनों की शादी होने वाली थी। सगाई तय होने के बाद वह लगातार उसका शक करता और उसकी सहेलियों को भी फोन पर धमकी देता। कुछ दिन पहले मेरे घर पर आया और मां को धमकाने लगा। उसकी सायको जैसी हरकतों को देखते हुए हमने शादी नहीं करने का फैसला लिया। बीती रात करीब 11.30 बजे वह मेरे कमरे में आया और कहने लगा कि वह उससे शादी करना चाहती या नहीं। मैंने शादी करने की बात से इंकार कर दिया तो वह बिफर गया। चीख पुकार सुनकर मेरे भाई रितेश धाकड़ और मां जानकी धाकड़ आ गई। इससे गुस्सा होकर उसने अपने पास रखी रायफल से पहले रितेश को गोली और फिर को गोली मार दी। इसके बाद मैंने और परिवार के सदस्यों ने उसकी बंदूक छींन ली और उसे कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद वह अपने भाई को लेकर अस्पताल पहुंची। जहां कुछ देर बार डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। जबकि मां उसकी मां की हालत गंभीर होना बताई जा रही है।
कोट्स 
इस मामले में आरोपी एसएएफ जवान के  खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। एसएएफ जवान और गार्ड कमांडर चंद्रभूषण पाराशर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। जवान अपनी बंदूक घर लेकर कैसे गया, इसको लेकर पूछताछ की जा रही है। युवक की मौत हो चुकी है, और उसकी मां को हाथ में गोली लगी है।
राजेश सिंह भदौरिया, एएसपी जोन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *