ऐशबाग थाना प्रभारी पर कथित जुआं-सट्टा खिलवाने का आरोप !

ऐशबाग थाना प्रभारी पर कथित जुआं-सट्टा खिलवाने का आरोप !
Share on social media

mp03.in संवाददाता भोपाल 
ऐशबाग थाना प्रभारी नीलेश अवस्थी व उनके थाने के कर्मचारियों पर मिलीभगत कर क्षेत्र में जुआ-सट्टा खिलवाने के आरोप लग रहे हैं। हालही में एक युवक ने आरोप लगाया है कि उससे एक लाख 10 हजार रुपये मांगे जा रहे हैं। रकम नहीं मिलने पर उसे झूठे केस में फंसा दिया गया है। मामले की शिकायत पुलिसकर्मियों के सट्टे के लेन-देन की जानकारी व मोबाइल रिकार्डिंग सीडी के रूप में देकर डीआइजी शहर इरशाद वली से की गई है। डीआइजी ने मामले की जांच एएसपी अंकित जायसवाल को सौंपी है। मालूम होकि बीते दिनों क्राइम ब्रांच द्वारा इलाके में कुख्यात बदमाश जुबैर मौलाना का जुआ पकड़ने पर तत्कालीन टीआई समेत चार पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया था।
जानकारी केअनुसार बाग फरहत अफजा निवासी शाहरूख हसन (26) ने शिकायती आवेदन में कहा है कि ऐशबाग इलाके में जुआ-सट्टा खिलाने वाले नवाब मंडी का कारोबार
बंद होने के बाद थाने के आरक्षक गजराज ने उससे अन्य किसी व्यक्ति का सट्टा चलवाने का ऑफर दिया था। उन्होंने मेरी मुलाकात थाने के बाहर थाना प्रभारी नीलेश अवस्थी से कराई।
टीआई ने भरोसा दिलाया था कि बेफिक्र होकर सट्टा चलाओ, वह तक सभी अधिकारियों मैनेज कर लेंगे। लेकिन नवाब मंडी ने दोबारा कारोबार शुरु कर दिया। ऐसे में नए व्यक्ति का धंधा बंद हो गया। बावजूद पुलिस एक लाख 10 हजार रूपए की मांग रही है। शाहरूख ने अपनी शिकायत में कहा है कि ऐशबाग थाने के आरक्षक गजराज ने इकबाल खान को सट्टा खिलवाने के पैसे देने के लिए कहा था।

इन पुलिस कर्मियों पर भी लगे आरोप 
एएसआइ जयप्रकाश पांडे, आरक्षक अरविंद वर्मा, अतुल चंद्र रघुवंशी, राकेश ठाकुर, कुलदीप, संपूर्णानंद।

इनका कहना 

शाहरुख पहले थाने का वाहन चालक था। बाद में उसके अपराधों की जानकारी लगी तो उसे हटा दिया गया। उस पर कई अपराध दर्ज हैं और अभी हाल में ही वह अपराध भी दर्ज किया है। मैं उसे नहीं पहचनानता हूं। वह ऐसे आरोप क्यों लगा रहा है, बता नहीं सकता हूं।
– नीलेश अवस्थी, थाना प्रभारी, ऐशबाग
कोट़स 
थाना प्रभारी की सट्टा खिलाने की शिकायत मिली है। मामले की जांच एएसपी कर रहे हैं। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
– इरशाद वली, डीआइजी शहर भोपाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *