दोस्त की हत्या के बाद तीन महीनों से फरार हत्यारे को तीन महीने बाद पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया के हत्थे

दोस्त की हत्या के बाद तीन महीनों से फरार हत्यारे को तीन महीने बाद पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया के हत्थे
Share on social media
mp03.in संवाददाता भोपाल 
 कमला नगर इलाके  में करीब तीन महीने पहले तालाब में फेंककर दोस्त की हत्या के बाद फरार आरोपी को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अभिरक्षा में लाकर पुलिस ने उसे रविवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
कमला नगर थाना प्रभारी विजय सिंह सिसोदिया के अनुसा अरेरा हिल्स, भीमनगर निवासी 30 वर्षीय संदीप पाटिल  इलेक्ट्रिकल का काम करता था।जिसे शराब व अन्य प्रकार के सूखे नशे की आदत थी, उसका करीबी दोस्त दक्ष यादव उर्फ डेविड यादव भी नशे का आदि था।  अधिकांश समय दोनों साथ बैठकर ही नशा करते थे। 8 जुलाई को दोनों प्रेमपुरा घाट पहुंचे थे। जहां दोनों ने बैठकर शराब पी। इसी दौरान किसी बात को लेकर दोनों के बीच में विवाद हो गया। संदिप ने  डेविड को गाली बक दी, जिससे नाराज होकर डेविड ने मारपीट कर उसे तालाब में फेंक दिया। जिसके बाद आरोपी मृतक की मोटर साइकिल और मोबाइल लेकर फरार हो गया। तालाब में संदीप की लाश को सामान्य मौत मानकर पुलिस ने पीएम के लिए भेज दिया। लेकिन पीएम में मृतक के साथ पानी मे डूबने से पहले मारपीटी की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने छानबीन शुरु की। घटनास्थल के सीसीटीवी फुटेज देखने पर भदभदा पूल पर संदिग्ध बाइक सवार दक्ष यादव उर्फ डेविड नजर आया। कुछ लोगाें ने भी मृतक को आखिरी बार डेविड के साथ देखने की पुष्टि की।  पुलिस ने दक्ष की तलाश शुरू की, करीब डेढ़ महीने बाद उसकी लोकेशन दिल्ली रेलवे स्टेशन पर मिली। एसआई गयाप्रसाद के नेतृत्व में अनंत सोमवंशी और अरूण तौमर के रवाना किया गया। जिन्होंने दिल्ली रेलवे स्टेशन से घेराबंदी कर डेविड को हिरासत में ले लिया। रविवार को गिरफ्तारी के बाद आरोपी को न्यायालय पेश कर जेल भेज दिया गया।
लाॅकअप में हंगामा 
पुलिस सूत्रों की माने तो आरोपी दक्ष यादव नशे का आदि है, ऐसे में नशे की लत के चलते वह थाने में  नशे की मांग करते हुए हंगामा कर रहा था। वहीं स्वयं को नुकसान पहुंचाने का प्रयास कर रहा था। ऐसे में पुलिस को लॉकअप में उसके हाथ पैर बांधकर रखना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *